टीबी का इलाज

संक्रामक बीमारी होने की वजह से टीबी से हर साल लाखों लोग शिकार होते हैं. भारत में भी इस बीमारी से हर तीन ‍मिनट में दो मरीज अपना दम तोड़ दे‍ते हैं. यदि आपका इलाज डॉक्टर के पास चल रहा है तो उसे चलने दे. इसे आप सहायक इलाज के तौर पर घर पे आजमा सकते है.

टीबी का घरेलू उपचार:

- लहसुन की दो-तीन कलियां सुबह कच्ची चबाएं.
  
- शहद व मक्खन शरीर के क्षय को रोकते हैं। सौ ग्राम मक्खन लेकर उसमें पचीस ग्राम शुद्ध शहद मिलाकर रोजाना सेवन   करें.
  
- भोजन करने के बाद लौंग का चूर्ण शहद में मिलाकर चाटें.
  
- एक पांव दूध में पांच पीपल डालकर उबालें। फिर इस दूध को सुबह-शाम समय पियें.
  
- लहसुन के रस के साथ आधा चम्मच शहद मिलाकर चाटें तथा लहसुन के रस को सूंघें. यह रस फेफडों को मजबूत करता है.
  
- टीबी रोगी रोजाना सौ-दो सौ ग्राम अंगूर का सेवन करें. 
  
- केला खाने से टीबी के रोगियों की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -