महिला सशक्तिकरण के लिए आगे आए टाटा और मास्टरकार्ड

महिला सशक्तिकरण के लिए आगे आए टाटा और मास्टरकार्ड

महिला सशक्तिकरण के लिए कई देश और साथ ही कई कंपनियां भी आगे आ रहे है. अब इस संदर्भ में ही यह बात भी सामने आई है कि टाटा कम्युनिकेशन के साथ ही मास्टरकार्ड भी महिलाओं को सशक्त बनाये जाने को लेकर आगे आ रहे है. मामले में यह बात सामने आ रही है कि ये दोनों संस्थान भारत, नाइजीरिया, इंडोनेशिया और ग्वाटेमाला जैसे विशाल देशों में करीब 25 हजार महिलाओं को आर्थिक रूप से मजबूत या सशक्त बनाने के लिए आगे आये है. इस मामले में ही उनके लक्ष्य के बारे में यह कहा जा रहा है कि वे वर्ष 2020 तक अपने इस आंकड़े को 10 करोड़ के पार पहुँचाना चाहते है.

इस बारे में ही जारी एक बयान में दोनों ही कम्पनियों ने यह कहा है कि वैश्विक दूरसंचार और भुगतान प्रौद्योगिकी फर्में और इसके साथ ही उनके नेटवर्क के कई भागीदार उनके इस विचार के लिए गैर पंक्तिबद्ध क्रियान्यन का तरीका भी अपनाने लगेंगे. साथ ही जानकारी ने इस बात को भी साफ कर दे कि इन दोनों कम्पनियों के द्वारा मोबाइल प्लेटफॉर्म के जरिये आने वाले 5 सालों में अपनी साझा सोच को पूरा किये जाने को लेकर हाथ बढ़ाया है. यह भी पता चला है कि इसके अंतर्गत वित्तीय, स्वास्थ्य और शिक्षा समाधान के साथ ही कई सेवाएं भी शामिल है.