रजनीकांत ने किया मोदी-शाह के फैसले का समर्थन, भड़की कांग्रेस ने दिया ऐसा बयान

रजनीकांत ने किया मोदी-शाह के फैसले का समर्थन, भड़की कांग्रेस ने दिया ऐसा बयान

चेन्नई: तमिलनाडु कांग्रेस कमेटी ने सोमवार को फिल्म अभिनेता रजनीकांत पर आरोप लगाते हुए कहा कि उन्होंने भारतीय संविधान की धारा 370 को रद्द करने के लिए एनडीए सरकार की तारीफ की. तमिलनाडु कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष केएस अलागिरी ने इस मामले पर रजनीकांत के बयान पर हैरानी जाहिर की है. जारी एक बयान में उन्होंने कहा कि अभिनेता ने धर्म के साथ आध्यात्मिकता का घालमेल करने का प्रयास किया है.

केएस अलागिरी ने कहा कि, 'रजनीकांत एक आध्यात्मिक शख्स हैं. कश्मीर मुद्दे पर उनकी टिप्पणियां हैरान करने वाली हैं. मुझे आश्चर्य है कि यदि रजनीकांत ने अपनी धार्मिक भावना के चलते आध्यात्मिकता के साथ घालमेल किया है.' अलागिरी ने यह जानने का प्रयास किया कि क्या केंद्र सरकार हिमाचल प्रदेश, उत्तर पूर्व के कुछ प्रदेशों और कर्नाटक में कुर्ग का विशेष दर्जा वापस लेगी? उन्होंने कहा कि, 'कश्मीर में विशेष दर्जे को ख़ारिज करने वाली सरकार ने अन्य प्रदेशों के लिए ऐसा नहीं किया है. ऐसा क्यों है? मोदी सरकार ने कश्मीर में धारा 370 को मात्र इसलिए रद्द कर दिया क्योंकि यह मुस्लिम बहुल प्रदेश है?'

तमिलनाडु कांग्रेस अध्यक्ष ने सुपरस्टार रजनीकांत से भगवान कृष्ण और अर्जुन की भूमिका को समझने के लिए महाभारत को पढ़ने का अनुरोध  किया. अलागिरी ने कहा कि, 'काश, रजनीकांत महाभारत को यह समझने के लिए पढ़ते कि अमित शाह और मोदी दुर्योधन और शकुनि हैं. वो भगवान कृष्ण और अर्जुन किस तरह हो सकते हैं जब उन्होंने लोगों के अधिकार छीन लिए हैं?'

राहुुल गांधी के आरोपों पर जम्मू कश्मीर के राज्यपाल ने दिया यह जवाब

पूर्व पीएम मनमोहन सिंह राज्यसभा के लिए आज भरेंगे नामांकन

कर्नाटक में बाढ़ की विनाश लीला जारी, सीएम येदियुरप्पा ने किया मुआवज़े का ऐलान