तमिलनाडु ने मुल्लापेरियार बांध के दो गेट खोले

तमिलनाडु: बांध के जलग्रहण क्षेत्रों में भारी बारिश के बाद तमिलनाडु सरकार ने मुल्लापेरियार बांध के दो गेट खोल दिए हैं । जलस्तर 141 फीट तक पहुंचने के बादयह निर्णय किया गया।

गेट खुलने पर केरल की पेरियार नदी में 772 क्यूसेक पानी छोड़ा गया। पानी पहले ही वल्काकावु तक पहुंच चुका है और पेरियार नदी के निचले जिलों के निवासियों को खाली करने की सलाह दी गई है ।

मुल्लापेरियार तमिलनाडु सरकार द्वारा नियंत्रित बांध है, लेकिन यह पूर्ण रूप से केरल में स्थित है, इसलिए दोनों मंत्रालयों के अधिकारियों को बांधों को खोलने से पहले संवाद करना चाहिए । केरल सरकार मुल्लापेरियार में एक नए बांध के लिए जोर दे रही है, वहीं तमिलनाडु का दावा है कि मौजूदा बांध पर्याप्त है।

त्रावणकोर के महाराजा और भारत के लिए ब्रिटिश विदेश मंत्री ने 29 अक्टूबर, 1886 को पेरियार सिंचाई कार्यों के लिए एक पट्टे पर समझौते पर हस्ताक्षर किए। हालांकि, केरल राज्य के एकीकृत होने के बाद राज्य प्रशासन ने कहा कि पिछला समझौता असंवैधानिक था और इसकी जांच की जरूरत है। 

पीएम मोदी बोले- देश का बैंकिंग सेक्टर आज मजबूत स्थिति में, इकॉनमी को दे सकता है सपोर्ट

शादी के बंधन में बंधा टीवी का यह मशहूर अभिनेता

5 Km लंबा जाम, सड़कों पर गाड़ियों का हुजूम.., ट्रकों की एंट्री बंद होने से दिल्ली के सामने नई मुसीबत

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -