शांत और निर्मल मन पाने के लिए फेंगशुई को अपनाएं

Dec 18 2018 06:05 PM
शांत और निर्मल मन पाने के लिए फेंगशुई को अपनाएं

जीवन में शांति बहुत जरूरी होती है। इसके साथ ही मन का शांत रहना भी जरूरी है क्योंकि जब इंसान का मन शांत रहेगा तब ही वह कुछ अच्छा सोच पायेगा। लेकिन मन शांत रहने के लिए यह भी जरूरी है कि घर का माहौल ठीक रहे। घर में किसी प्रकार की कोई परेशानी न आये। किसी प्रकार की कोई कलह, रोग या फिर द्वेष न हो। क्योंकि अगर घर में इन चीजों कि मौजूदगी रहती है तो इंसान का मन शांत नहीं रह पाता है और वह किसी भी चीज के बारे में सक्रियता से नहीं सोच पाता है। इसलिए जरूरी है कि घर में आ रही परेशानी को पहले समाप्त किया जाए। तो इसके लिए हम फेंगशुई के कुछ ऐसे उपाय बताने जा रहे हैं, जिसे करने के बाद घर से परेशानी दूर भाग जाएगी।

अपने घर या प्रतिष्ठान के आसपास न तो गंदगी को रहने दें और न ही अंधेरे को टिकने दें। बंद घड़ियां घर की सुख समृद्धि के लिए हानिकारक होती हैं। इनसे नकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह होता है। घर को कुदरती रूप से मौसम के अनुसार गर्म या ठंडा रहना चाहिए। इसके लिए सुबह और शाम घर की सभी खिड़कियों को खोल दें। घर में हरे.भरे पौधे लगाने से परिजनों के बीच सामंजस्य बढ़ता है। फेंगशुई में विंड चाइम को बेहद अहम माना जाता है। इनसे निकलने वाली सकारात्मक ऊर्जा घर.परिवार में उन्नति के मार्ग खोलती है। ध्यान रखें कि विंड चाइम से निकलने वाली आवाज मीठा स्वर पैदा करे। 

घर में अगर बीमारियों का डेरा है तो पांच रॉड वाली विंड चाइम को लगाना बेहतर रहता है। घर में क्लेश रहता है तो दो या तीन रॉड वाली विंड चाइम अच्छी मानी जाती है। फेंगशुई के अनुसार घर या प्रतिष्ठान में लॉफिंग बुद्धा की मूर्ति रखने से नकारात्मक ऊर्जा दूर होती है। लॉफिंग बुद्धा की मूर्ति को घर या प्रतिष्ठान में मुख्य दरवाजे के सामने कभी न रखें। लाफिंग बुद्धा को इस तरह रखें कि आते जाते आपकी सीधी नजर उन पर पड़े। परिवार में अनबन रहती है तो दोनों हाथों को उठाकर हंसते हुए लाफिंग बुद्धा को पूर्व दिशा में रखें। बच्चों के साथ बैठे लाफिंग बुद्धा संतान प्राप्ति के लिए शुभ माने जाते हैं।

 

यह उपाय जो घर की नकारात्मक शक्ति को करते हैं पूरी तरह खत्म

बालक सिद्धार्थ से महात्मा गौतम बुद्ध बनने तक की दास्तान

पूर्णिमा पर यह दान देकर पाए भगवान की असीम कृपा

हिन्दू धर्म में क्यों माना जाता है सूर्य को भगवान