सेना पर शहला राशिद के आरोप पर कश्मीर की इस महिला अधिकारी ने दिया जवाब

श्रीनगरः धारा 370 हटने के बाद सरकार ने शांति व्यव्स्था के लिए जम्मू-कश्मीर में कुछ सख्त पाबंदियां लगा दी थीं। जिसका विरोधी पक्ष आलोचना करता रहा है। मोदी सरकार के कट्टु आलोचकों में शुमार शहला राशिद ने कश्मीर के हालात पर सेना और सरकार पर गंभीर आरोप लगाए थे। उनके आरोपों पर जम्मू-कश्मीर की सूचना जनसंपर्क विभाग की निदेशक सईद सेहरिश असगर ने बयान दिया है। उन्होंने साफ किया कि घाटी में कानून व्यवस्था से संबंधित कोई घटना नहीं हुई है।

असगर ने कहा कि घाटी में कानून व्यवस्था को लेकर कोई बड़ी घटना नहीं घटित हुई है। जीवन सामान्य हो रहा है। जनता काफी सहयोग कर रही है। उन्होंने कहा कि कुछ लोगों द्वारा रविवार को अफवाह फैलाई गई, जिसके बाद सरकार ने लोगों से अनुरोध किया कि वे इस तरह की किसी भी तरह की अफवाह पर यकीन न करें। सईद सेहरिश असगर ने कहा कि जम्मू में भी कानून व्यवस्था से जुड़ी किसी तरह की घटना नहीं हुई। शहला कश्मीर की रहने वाली हैं।

उन्होंने आरोप लगाया कि सेना और पुलिस के लोग आम नागरिकों के घर घुस रहे हैं और उन्हें सताया जा रहा है। उन्होंने शोपियां में सुरक्षाबलों द्वारा कुछ लोगों को जबरन हिरासत में लेने और उन्हें प्रताड़ित करने का आरोप लगाया। शहला राशिद के ट्वीट्स को सेना ने भी निराधार बताया है। उनके विरूद्ध शीर्ष कोर्ट में आपराधिक शिकायत दर्ज करवाई गई है। उनकी गिरफ्तारी की भी मांग की गई है।

दुनिया को अलविदा कह गए मध्‍य प्रदेश के पूर्व मुख्‍यमंत्री, भोपाल में हुआ निधन

जब शौचालय कम बने तो ज्यादा कैसे बताए, सीएम योगी ने 6 डीएम से मांगा जवाब

नदी में बहे अस्थि विसर्जन करने गए एक ही परिवार के लोग, दो की मौत, एक लापता

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -