इंदौर में स्वाइन फ्लू का प्रकोप, हर दुसरे दिन मर रहे लोग

Apr 23 2019 10:42 AM
इंदौर में स्वाइन फ्लू का प्रकोप, हर दुसरे दिन मर रहे लोग

इंदौर: स्वाइन फ्लू से 35 वर्षीय महिला की मृत्यु होने के बाद मौजूदा वर्ष में यहां इस घातक बीमारी की वजह से दम तोड़ने वाले मरीजों का आंकड़ा बढ़कर 60 हो गया है. यानी औसत आधार पर इस वर्ष स्थानीय अस्पतालों में हर दूसरे दिन स्वाइन फ्लू के एक मरीज की मौत हुई है. स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने सोमवार को जानकारी देते हुए बताया है कि एच1एन1 संक्रमण की वजह से 35 वर्षीय महिला इंदौर के शासकीय महाराजा यशवंतराव चिकित्सालय में पांच अप्रैल से उपचार ले रही थी. 

उपचार के दौरान कल रविवार को उसने दम तोड़ दिया. अधिकारी ने जानकारी देते हुए बताया कि एक जनवरी से अब तक स्थानीय अस्पतालों के कुल 206 मरीजों में स्वाइन फ्लू का वायरस होने की पुष्टि की गई है. इनमें से 60 लोगों की उपचार के दौरान मृत्यु हो चुकी है. मृतकों में शामिल 27 मरीज इंदौर जिले के बाहर के रहने वाले थे.

प्राप्त जानकारी के अनुसार गुजरे बरसों में यहां देखा गया था कि आमतौर पर स्वाइन फ्लू का प्रकोप सर्दियों में अपेक्षाकृत अधिक रहता है और गर्मी का मौसम आते-आते इसका प्रभाव समाप्त या कम हो जाता है. किन्तु गर्मी के मौसम में भी इस रोग के वर्तमान प्रकोप को देखते हुए लगता है कि एच1एन1 वायरस ने ऊंचे तापमान के विरुद्ध प्रतिरोधक क्षमता विकसित कर ली है.

खबरें और भी:-

राफेल मामला: सुशिल मोदी का कांग्रेस अध्यक्ष पर वार, कहा- अभी और माफ़ी मांगेंगे राहुल

श्रीलंका ब्लास्ट में बड़ा खुलासा, IS के आतंकियों ने किया था हमला

साध्वी प्रज्ञा के बचाव में बोले बाबा रामदेव- उनके साथ अन्याय हुआ