मात्र 25 वर्ष की आयु में मंत्री बनने वाली सुषमा स्वराज की लव स्टोरी कर देगी आपको हैरान...

मात्र 25 वर्ष की आयु में मंत्री बनने वाली सुषमा स्वराज की लव स्टोरी कर देगी आपको हैरान...

नई दिल्ली: 14 फरवरी 1952 को जन्मी सुषमा स्वराज को दिल्ली की पहली महिला मुख्यमंत्री होने का गौरव प्राप्त है,  स्वराज तीन बार राज्यसभा सदस्य और अपने गृह राज्य हरियाणा की विधानसभा में दो दफा मेंबर रह चुकी हैं, अटल बिहारी वाजपेयी के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार में उन्होंने सूचना प्रसारण मंत्रालय, स्वास्थ्य मंत्रालय, संसदीय कार्य मंत्री समेत विभिन्न मंत्रालयों का कार्यभार संभाला था।

अपनी ही पार्टी की कार्यकर्ता को दिल दे बैठे थे मुलायम, दोनों का एक बच्चा भी हुआ लेकिन...

लेकिन आपको बता दें कि, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की तेज-तर्रार और पॉपुलर नेता में शामिल सुषमा स्वराज और स्वराज कौशल की लव मैरिज हुई थी और दोनों की प्रेम कहानी कॉलेज के दिनों में आरम्भ हुई थी, दोनों की सोच, विचार और सिंद्धातों में काफी फर्क था, लेकिन वो कहते हैं ना दो अपोजिट व्यवहार वाले लोगों में ही आकर्षण पैदा होता है, सुषमा स्वराज और स्वराज कौशल के साथ भी ये ही हुआ, दोनों की पहली बार मुलाकात पंजाब यूनिवर्सिटी के चंडीगढ़ के लॉ डिपार्टमेंट में हुई थी।

इस मुस्लिम लड़की पर फ़िदा हो गए थे सचिन पायलट, फिर आड़े आ गया मजहब और...

सुषमा जहां हिंदी की प्रकांड विद्वान, उनके भाषण के भारतीय ही नहीं विदेशी भी फैन हैं और वहीं स्वराज कौशल अंग्रेजी के महारथी हैं, किन्तु फिर भी दोनों की जुगलबंदी हो गई और आज ये रिश्ता दिनया के लिए एक मिसाल है। दोनों ने 13 जुलाई 1975 को परिणय सूत्र में बांधने वाले इस जोड़े को भी प्रेमविवाह के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ी थी, क्योंकि ये वो समय था जब हरियाणा की किसी लड़की के लिए प्रेम विवाह के बारे में सोचना ही बहुत बड़ी बात मानी जाती थी। किन्तु मात्र 25 वर्ष की आयु में हरियाणा में कैबिनेट मंत्री बनने वाली सुषमा ने ये साहस दिखाया, बल्कि मिसाल भी कायम की, आज दोनों के प्यार की बगिया में 'बांसुरी' नाम की एक बेटी हैं।

खबरें और भी:-

एक को स्पोर्ट्स पसंद दूसरे को पेंटिंग, फिर भी लाजवाब है अखिलेश-डिंपल की लव स्टोरी

मुलायम ने की पीएम मोदी की प्रशंसा, आज़म खान का छलका दर्द

फारूक अब्दुल्ला का बड़ा सवाल, क्या राम सिर्फ हिन्दुओं के भगवान