विपरीत परिस्थितियों को हराकर इस पहलवान ने ऊंचा किया देश का नाम

May 26 2019 12:32 PM
विपरीत परिस्थितियों को हराकर इस पहलवान ने ऊंचा किया देश का नाम

ओलम्पिक में भारत को दो-दो पदक दिलाने वाले पहलवान सुशील कुमार आज अपना जन्मदिन मना रहे है। 26 मई 1983 को जन्मे सुशील ने कुश्ती में बड़ा नाम कमाया है। भारत में कुश्ती को लोकप्रिय बनाने के लिए सुशील को याद किया जाता है।

ब्रायन लारा ने किया बड़ा खुलासा, बताया कैसे निपटा जाए जसप्रीत बुमराह से...

सुशील का जन्म बापरोला दिल्ली में हुआ था। कुश्ती सुशील को विरासत से मिली थी। सशील के पिता दीवान सिंह ने भी अपनी जवानी के दिनों में कुश्ती खेली थी। हालांकि बाद में जीवनयापन के लिए दीवान ने एमटीएनएल में ड्राइवरी की नौकरी कर ली। सुशील ने मात्र 14 साल की उम्र से पहलवानी सीखनी शुरू कर दी। हालांकि उस दौर में इनके परिवार की आर्थिक स्थिति बहुत अच्छी नहीं थी। लेकिन बावजूद इसके सुशील के परिवार ने उनके भरण-पोषण में कोई कमी नहीं छोड़ी। सुशील ने जूनियर स्तर में एक होनहार पहलवान के रूप में शुरुआत कर दी थी। 

Beecham House : श्रिया पिलगाओंकर की इंटरनेशनल सीरीज़ का पोस्टर हुआ आउट

जानकारी के अनुसार इसके बाद साल 2010 में सुशील ने वर्ल्ड रेसलिंग चैंपियनशिप में वर्ल्ड टाइटल का खिताब जीता। साल 2011 में उनके बेहतर प्रदर्शन को देखते हुए सरकार ने उन्हें पद्म श्री पुरस्कार से समामानित किया। साल 2012 में सुशील ने समर ओलंपिक में सिल्वर मेडल पर कब्जा जमाया। 2012 के लंदन. ओलंपिक में सुशील भारत के लिए ध्वजवाहक बने। इस ओलंपिक में सुशील ने रजत पदक पर कब्जा जमाया।

एयरपोर्ट पर काजोल और उनकी बेटी को देखकर यूज़र्स ने कर दिए प्रेगनेंसी वाले कमेंट

इस रेस्टोरेंट में आने वाला व्यक्ति बन जाता है मरीज और फिर...

ऑस्ट्रेलिया के इस दिग्गज क्रिकेटर ने की कोहली की तारीफ, कहा तुरंत जवाब देते हैं विराट