मकर संक्रांति: 12 राशि के 12 मंत्र और राशिनुसार करें दान

मकर संक्रांति (Makar sankranti) एक ऐसा पर्व है जिस दिन सूर्यदेव की आराधना की जाती है और इस बहुत महत्व होता है. ऐसा इसलिए क्योंकि इसी दिन सूर्य मकर राशि में प्रवेश करते है तथा उत्तरायन हो जाते हैं। जी हाँ और इन दोनों संक्रमण के कारण ही इसे मकर संक्रांति कहा जाता है। आप सभी को बता दें कि हिंदू धर्म (Hindu Dharma) में यह दिन सबसे अधिक महत्वपूर्ण माना जाता है। इस दिन सूर्यदेव के साथ ही अपने इष्ट देव की आराधना करना बहुत ही शुभ फलदायी माना जाता है। वहीं धार्मिक मान्यता को माने तो मकर संक्रांति (Makar sankranti 2022) के दिन पूजा-पाठ और दान करने का विशेष महत्व शास्त्रों में वर्णित है। आज हम आपको बताने जा रहे है राशिनुसार (Makar sankranti Rashinusar Mantra) मंत्र जाप और दान सामग्री.

12 राशि के 12 सूर्य मंत्र-
- मेष- ॐ अचिंत्याय नम:
- वृषभ- ॐ अरुणाय नम:
- मिथुन- ॐ आदि-भुताय नम:
- कर्क- ॐ वसुप्रदाय नम:
- सिंह- ॐ भानवे नम:
- कन्या- ॐ शांताय नम:
- तुला- ॐ इन्द्राय नम:
- वृश्चिक- ॐ आदित्याय नम:
- धनु- ॐ शर्वाय नम:
- मकर- ॐ सहस्र किरणाय नम:
- कुंभ- ॐ ब्रह्मणे दिवाकर नम;
- मीन- ॐ जयिने नम:।

राशिनुसार दान सामग्री-

- मेष- तांबा की वस्तु, दही या तिल-गुड़ का दान शुभ रहेगा।।
- वृष- चांदी, तिल का दान शुभ रहेगा।।
- मिथुन- पीला वस्त्र, गुड़ गरीबों को दें।
- कर्क- सफेद ऊन, तिल का दान शुभ रहेगा।।
- सिंह- गुड़, गेहूं का दान शुभ रहेगा।।
- कन्या- हरा मूंग और तिल का दान शुभ रहेगा।।
- तुला- गुड़ और 7 प्रकार के अनाज का दान शुभ रहेगा।।
- वृश्चिक- लाल वस्त्र, दही का दान शुभ रहेगा।।
- धनु- पीले वस्त्र, गुड़ का दान शुभ रहेगा।
- मकर- कंबल, गुड़ का दान शुभ रहेगा।
- कुंभ- कंबल, घी का दान शुभ रहेगा।।
- मीन- चना दाल, तिल करना फलदायी शुभ रहेगा।

मकर संक्रांति के दिन घर में इस जगह रख दें कौड़ियां, चमक उठेगी किस्मत

14 या 15 जनवरी आखिर कब है मकर संक्रांति, जानिए यहाँ सही मुहूर्त

इन 4 राशिवालों के लिए बहुत बुरी होगी मकर संक्रांति, हो सकती है दुर्घटना

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -