वायुसेना का हवाई हमला शहीद जवानों को श्रद्धांजलि है : मोहन भागवत

नागपुर : राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत ने मंगलवार को कहा कि जैश-ए-मोहम्मद के आतकंवादी प्रशिक्षण ठिकानों पर भारतीय वायुसेना के हवाई हमले पुलवामा हमले में शहीद हुए जवानों को श्रद्धांजलि है। जैश-ए-मोहम्मद ने ही जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के जवानों पर 14 फरवरी को हुए आत्मघाती विस्फोट की जिम्मेदारी ली थी।

सर्जिकल स्ट्राइक के बाद दिल्ली में हाई अलर्ट, 24 घंटे चेकिंग के आदेश

भारत को शक्तिशाली बनने की जरूरत 

सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार मोहन भागवत ने महान स्वतंत्रता सेनानी वीर सावरकर के विचारों को याद किया कि भारत को शक्तिशाली बनने की जरूरत है, क्योंकि बिना शक्ति के कोई उसकी नहीं सुनेगा। वह कम्प्यूटर वैज्ञानिक विजय भाटकर के सम्मान कार्यक्रम में बोल रहे थे, जिन्हें स्वतंत्र्य वीर सावरकर गौरव पुरस्कार से सम्मानित किया गया है।

सौगंध मुझे इस मिट्टी की, मैं देश नहीं मिटने दूंगा, मैं देश नहीं झुकने दूंगा

दुनिया शक्ति को ही समझती है 

प्राप्त जानकारी के अनुसार उन्होंने कहा, "हमें सच बोलने के लिये शक्ति की आवश्यकता नहीं है, लेकिन दुनिया वैसी नहीं है। वह सिर्फ शक्ति को ही समझती है। इसलिये अगर हम दुनिया को अपना आध्यात्म, सत्य और अहिंसा दिखाना चाहते हैं तो हमें शस्त्र संपन्न और ‘शक्ति संपन्न’ बनने की आवश्यकता है। बता दें मंगलवार को हुई सर्जिकल स्ट्राइक के दौरान पाकिस्तानी इलाकों में बसे आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के 25 कमांडर और 325 आतंकी मारे गए हैं। हमलों में किसी सामान्य पाकिस्तानी नागरिक के मारे जाने की सूचना नहीं है.

मेट्रो से इस्कॉन मंदिर पहुंचे पीएम मोदी बच्चों ने ली खूब सेल्फी

विदेश मंत्रियों की बैठक में शामिल होने के लिए चीन रवाना हुई सुषमा स्वराज

ऐसा जयकारा लगाओ कि कश्मीर में सैनिकों को सुनाई दे : योगी आदित्यनाथ

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -