जनार्दन रेड्डी पर सुप्रीम कोर्ट की सख्ती

नई दिल्ली : कर्नाटक में चुनाव प्रचार अपने चरम पर पहुँच रहा है. मुख्य मुकाबला कांग्रेस और भाजपा में है, वहीं मुख्य मुद्दा भ्रष्टाचार है. कांग्रेस, बीजेपी को बेल्लारी के रेड्डी बंधुओं का नजदीकी बताकर उसे भ्रष्टाचार का समर्थक बताने में जुटी हुई है.इस बीच देश की शीर्ष अदालत ने जनार्दन रेड्डी को बड़ा झटका दिया है. जनार्दन रेड्डी न तो बेल्लारी में प्रचार कर पाएंगे और न ही मतदान कर सकेंगे.

आपको बता दें कि भाजपा नेता जनार्दन रेड्डी ने सुप्रीम कोर्ट से अपने भाई जी. सोमशेखर रेड्डी जो बेल्लारी से चुनाव लड़ रहे हैं, उनके प्रचार के लिएअनुमति मांगी थी , जिसे आज सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने ठुकरा दिया और रेड्डी के बेल्लारी में प्रवेश करने पर लगाए गए प्रतिबंध को भी जारी रखा है.

गौरतलब है कि जस्टिस ए.के सीकरी और जस्टिस अशोक भूषण की पीठ ने उनकी किसी भी मांग को नहीं माना और याचिका खारिज कर दी.इसके अलावा सुप्रीम कोर्ट ने आज शुक्रवार को उनके वोट देने पर भी रोक लगा दी है. कोर्ट के इस फैसले से रेड्डी के साथ -साथ भाजपा को भी झटका लगा है.इस फैसले का कर्नाटक चुनाव पर असर पड़ने से इंकार नहीं किया जा सकता.

यह भी देखें

जनता के हित में शीर्ष अदालत की टिप्पणी

एससी-एसटी एक्ट के फैसले पर रोक लगाने से सुप्रीम कोर्ट ने किया इंकार

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -