यूपी सरकार की याचिका पर ट्विटर इंडिया के MD मनीष माहेश्वरी को सुप्रीम कोर्ट का नोटिस

नई दिल्ली: गाजियाबाद में एक बुजुर्ग मुस्लिम की पिटाई के वायरल वीडियो मामले में Twitter इंडिया के मैनेजिंग डायरेक्टर (MD) को राहत देने के खिलाफ यूपी सरकार की याचिका पर शीर्ष अदालत ने नोटिस जारी किया है. सुप्रीम कोर्ट के नोटिस पर Twitter इंडिया के MD मनीष माहेश्वरी को चार सप्ताह में जवाब देना है. माहेश्वरी के खिलाफ वायरल वीडियो के मामले में यूपी पुलिस ने ट्विटर इंडिया के विरुद्ध FIR  दर्ज की थी.

इसके बाद पुलिस की ओर से भेजे गए नोटिस को लेकर कर्नाटक उच्च न्यायालय ने Twitter इंडिया के MD मनीष माहेश्वरी को अंतरिम राहत प्रदान की थी. साथ ही गाजियाबाद पुलिस को किसी प्रकार के सख्त कदम ना उठाने के निर्देश दिए थे. बता दें कि Twitter इंडिया ने मनीष माहेश्वरी को 22 अप्रैल 2019 को अपने इंडिया ऑपरेशंस का MD बनाया था. माहेश्वरी माया हरि को रिपोर्ट कर रहे हैं जो कि Twitter की उपाध्यक्ष और एशिया प्रशांत की MD हैं. मनीष माहेश्वरी मूलत: दिल्ली के निवासी हैं. वो 2019 से दिल्ली, मुंबई और बेंगलुरु टीम देख रहे हैं. इससे पहले वो नेटवर्क 18 डिज‍िटल के CEO पद पर रह चुके हैं.

मनीष माहेश्वरी ने भी शीर्ष अदालत में खुद कैविएट फाइल की थी, इसमें माहेश्वरी ने मांग की थी कि यूपी सरकार की तरफ से दाखिल अर्जी पर सुनवाई से पहले उनका पक्ष भी सुना जाए. बता दें कि गाजियाबाद के लोनी इलाके के एक मुस्लिम बुजुर्ग का वीडियो पिछले दिनों ट्विटर पर वायरल हुआ था. इस वीडियो में बुजुर्ग ने मुस्लिम होने के कारण पिटाई होने, दाढ़ी काटे जाने और जबरदस्ती जय श्री राम के नारे लगवाए जाने का आरोप लगाए थे, जबकि मामला ताबीज़ के कारण पिटाई का निकला था और बुजुर्ग की पिटाई करने वाले भी मुस्लिम ही थे. कई ऐसे वीडियो को फर्जी बताने वाले ट्विटर ने इस वीडियो पर आँखें मूँद ली थी, जिसके बाद यूपी पुलिस ने Twitter के खिलाफ मामला दर्ज किया था.

पीएम मोदी से लेकर सीएम योगी तक कई नेताओं ने अमित शाह को दी जन्मदिन पर बधाई

पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों पर बोले राहुल गांधी- ‘जनता के साथ चल रहा घिनौना मजाक’

'जब तक युद्ध जारी हो, हथियार नहीं डाले जाते..', आखिर किस तरफ था पीएम मोदी का इशारा ?

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -