लोन मोरेटोरियम पर 'सुप्रीम कोर्ट' में सुनवाई जारी, केंद्र ने मांगी मोहलत

Sep 28 2020 01:42 PM
लोन मोरेटोरियम पर 'सुप्रीम कोर्ट' में सुनवाई जारी, केंद्र ने मांगी मोहलत

नई दिल्ली: लोन मोरेटोरियम पर आज देश की सबसे बड़ी अदालत में अंतिम सुनवाई हो रही थी पर अब यह 5 अक्टूबर तक के लिए स्थगित कर दी गई है। केंद्र सरकार ने सुनवाई के दौरान अदालत से मोहलत मांगी है। केंद्र ने सोमवार को सुप्रीम कोर्ट को बताया कि वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के मद्देनजर ऋण की किस्त टालने की मियाद के दौरान बैंकों द्वारा ब्याज वसूलने पर 2-3 दिन में फैसला होने की संभावना है। 

सुप्रीम कोर्ट ने स्थगित की गई किस्तों पर ब्याज लेने को चुनौती देने वाली याचिका पर सुनवाई के दौरान केंद्र से फैसले को रिकॉर्ड में लाने और संबंधित पक्षकारों को एफिडेविट देने को कहा। केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट को बताया कि इस मामले में बहुत गंभीरता के साथ विचार किया गया है और फैसले लेने की प्रक्रिया काफी उन्नत स्तर पर है। जस्टिस अशोक भूषण के नेतृत्व वाली पीठ ने कहा कि वह विभिन्न उद्योगों, व्यापार संघों और व्यक्तियों द्वारा दाखिल की गई याचिका की सुनवाई पांच अक्टूबर को करेगी।

पीठ ने कहा है कि, ''हम सोमवार (पांच अक्टूबर) को केस की सुनवाई करेंगे। आपकी जो भी नीति है, जो भी आप चाहते हैं, उसे बताइए। हम इस मामले को सोमवार को सुनेंगे। हम आगे कोई स्थगन नहीं चाहते हैं। इस पीठ में जस्टिस आर सुभाष रेड्डी और जस्टिस एम आर शाह भी शामिल हैं।

चीनी मीलों को सरकार ने दी बड़ी राहत, अब दिसंबर तक कर सकेंगे 'शुगर एक्सपोर्ट'

लगातार चौथे दिन सस्ता हुआ डीजल, पेट्रोल के भाव स्थिर

कोरोना महामारी के बावजूद 7.14 प्रतिशत बढ़ सकती है इस राज्य की GDP, अनुमान जारी