नर्सो के हालात पर सुप्रीम-कोर्ट ने जताई चिंता

Jan 29 2016 03:25 PM
नर्सो के हालात पर सुप्रीम-कोर्ट ने जताई चिंता

नई दिल्ली : देश की सर्वोच्च न्यायप्रणालिका तंत्र सुप्रीम कोर्ट ने नर्सो के कार्य करने के हालातो पर अपनी और से चिंता व्यक्त की है. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक इस मामले में सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को अपनी और से निजी अस्पतालों में कार्यरत नर्सो पर उनके कार्य करने के हालातो पर चिंता व्यक्त की है. इस मामले में सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार से कहा है कि इसके लिए जल्द ही चार हफ्तों के भीतर ही एक एक्सपर्ट कमेटी को बनाई जाए.

सुप्रीम कोर्ट ने कहा की इस दौरान बनाई गई यह एक्सपर्ट कमेटी देखेगी की देश के विभिन्न निजी अस्पतालों में कार्यरत इन नर्सो का वहां पर किन हालातो में कार्य करने पर मजबूर है. तथा इस मामले में केंद्र की बनाई गई इस कमेटी की रिपोर्ट की सिफारिशों के मामलो पर सरकार एक कानून भी बनाएगी तथा यह कार्य सरकार को जल्द ही छह माह में करना होगा.

देश में स्थित प्राइवेट अस्पतालों और नर्सिंग होम में नर्सों के काम करने के हालात बेहतर बनाने और सेवा शर्तें सुधारने के लिए जस्टिस अनिल आर दवे, जस्टिस शिव कीर्ति सिंह और जस्टिस आदर्श कुमार गोयल की बेंच ने यह निर्देश जारी किये है. सुप्रीम कोर्ट में यह याचिका ट्रेंड नर्सेज एसोसिएशन ऑफ इंडिया ने लगाई थी. इसमें सुप्रीम-कोर्ट को यह बताया गया था की नर्सो को कम सैलरी के साथ-साथ उनका शोषण, कार्य करने के घंटे अधिक होना जैसी बातों को बताया गया है.