वेस्टइंडीज के नरेन का नाम कैसे पड़ा सुनील


वेस्टइंडीज के करिश्माई गेंदबाज सुनील नरेन के नाम के पीछे बड़ी दिलचस्प कहानी है जो उन्होंने खुद बताई थी. जब पहली बार सुनील गावस्कर ने साक्षात्कार लिया था, तब उन्होंने कहा था कि मेरे पिता आपकी बल्लेबाजी के फैन रहे हैं और मेरा नाम भी उन्होंने आपके नाम पर रखा है. मेरे पिता को जब मैं ये बताऊंगा कि आपने मेरा साक्षात्कार लिया है, तो वे बहुत खुश होंगे कि वाकई महान गावस्कर से मैं बात कर रहा था.... दिलचस्प तथ्य तो ये भी है कि खुद गावस्कर वेस्टइंडीज के महान क्रिकेटर रोहन कन्हाई के फैन थे लिहाजा उन्होंने अपने बेटे का नाम रोहन रखा था.


वही आईपीएल-11 सीजन में धमाकेदार प्रदर्शन करने वाले  केएल लोकेश राहुल के पिता डॉ. केएल लोकेश सुनील गावस्कर के जबरदस्त फैन थे और बेंगलुरु में जब भी कोई मैच होता तो वे उसे देखने स्टेडियम का रुख कर लेते थे. जब राहुल का जन्म हुआ तो पिता चाहते थे कि वे उनका नाम सुनील गावस्कर के बेटे 'रोहन' के नाम पर रखें. चूंकि दक्षिण भारतीय होने के कारण वे सही उच्चारण न कर सके और जब राहुल का जन्म प्रमाण-पत्र बनकर तैयार हो गया, तब उन्हें गलती का अहसास हुआ, क्योंकि सर्टिफिकेट पर रोहन की जगह राहुल छप गया....

 

 

IPL 2nd क्वालीफायर : चेन्नई से भिड़ने के लिए आज हैदराबाद-कोलकाता आमने-सामने

रोनाल्डो ने की अपने कोच की जमकर तारीफ़

बांग्लादेश में छाया फुटबॉल का जादू

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -