एक फल वाला लक्ष्मण के नाम पर चलता था दूकान

 e- साहित्य के मंच पर रामायण की कास्ट ने शिरकत की थी .सभी जानते हैं कि लॉकडाउन में रामायण सीरियल को खूब देखा गया और सीरियल ने सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए.वहीं  इसके री-टेलीकास्ट के बाद सीरियल की कास्ट में मौजूद अरुण गोविल, सुनील लहरी और दीपिका चिखलिया की फैन फॉलोइंग में भी काफी इजाफा देखने को मिला.इसके अलावा सुनील लहरी से पूछा कि क्या रामायण करने के बाद पहले की तरह उनका जीवन नॉर्मल हो पाया. भगवान की उस छवि के साथ पर्सनल लाइफ में आगे बढ़ने का अनुभव कैसा था. इसका जवाब देते हुए सुनील ने कहा कि ''शुरुआत में थोड़ा सा अनकंफर्टेबल जरूर था. 

लेकिन धीरे-धीरे हम ढलते गए. मुझे एक किस्सा याद आता है कि मुंबई में जहां पर मैं रहता था उसी के पास एक फल वाला ठेला लगाता था. उसने मेरे साथ की फोटो लगाई हुई थी. वो लोगों से कहता था कि ये लक्ष्मण जी मेरे यहां से ही फल ले जाते हैं और इन्हीं फलों को खाकर उनकी इतनी अच्छी सेहत बनी हुई है.''इसके अलावा सुनील लहरी ने शो में हनुमान का रोल प्ले करने वाले दारा सिंह के बारे में बात करते हुए कहा कि- ''मैं दारा जी के बगल में रहता था. दारा जी से मिलने बहुत सारे लोग आते थे. 

आपकी जानकारी के लिए बता दें की उनकी फैन फॉलोइंग तगड़ी थी. जब लोगों को पता चलता कि मैं भी वहीं रहता हूं तो फिर दारा जी कि फैन फॉलोइंग का थोड़ा बहुत फायदा मुझे भी मिल जाता था. लोग मुझसे भी मिलने और ऑटोग्राफ लेने आ जाया करते थे.''बॉम्बे से बाहर का एक इंसिडेंट याद करते हुए सुनील ने कहा कि ''एक दफा उन्हें देखने के लिए पांच-सात हजार लोग इकट्ठा हो गए थे. मैं चेतन आनंद जी की गाड़ी में था. हमारा उस जगह से निकलना मुश्किल हो गया था. गाड़ी को भी काफी नुकसान झेलना पड़ा था. ''

ईद में शिवांगी जोशी का लुक करेगा आपकी मदद

शोएब इब्राहिम और मोहसिन खान की तरह ईद पर पहनिए सिंपल कुर्ता

गांव में 3 महीने रहने के बाद अपने घर लौटी रतन राजपूत

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -