दो समलैंगिक सहेलियों ने दी जान

Apr 16 2015 03:59 AM
दो समलैंगिक सहेलियों ने दी जान
छत्तीसगढ़/महासमुंद : छत्तीसगढ़ के महासमुंद जिले के कोटद्वारी स्थित घोड़ाधार प्रपात पर दो युवतियों ने 500 फीट की ऊंचाई से कूद कर जान दे दी। दोनों 13 अप्रैल को घर से साइकिल पर निकली थीं। पुलिस की जांच में सामने आया है कि दोनों समलैंगिक थीं और आपस में प्रेम करती थीं। रिश्ते को सामाजिक स्वीकार्यता न मिलने और एक युवती के कहीं और शादी तय कर दिए जाने के चलते दोनों ने आत्महत्या करने का फैसला किया।

बलोदा चौक थाना प्रभारी कोमल नेताम ने बुधवार दोपहर दोनों के समलैंगिक होने की पुष्टि की है। मंगलवार को कोटद्वारी स्थित प्रपात के पास दो युवतियों के शव चट्टान में फंसे मिले थे। शव चट्टान में बुरी तरह से फंसे हुए थे जिन्हें काफी मशक्कत के बाद बाहर निकाला गया। छानबीन में पहाड़ी के ऊपर युवतियों की साइकिल बरामद की गई। इसके बाद पुलिस ने आसपास के क्षेत्रों से गायब युवतियों के बारे में जानकारी जुटाई जिसमें सामने आया कि टेमरी गांव की दो युवतियां रेखा पटेल (25) और चंचला चौहान (19) 13 अप्रैल से लापता हैं।

वे उक्त तारीख को साइकिल पर घर से निकली थीं जिसके बाद से उनका कुछ पता नहीं है। पुलिस ने युवतियों के गांव पहुंचकर पूछताछ की तो पता चला कि दोनों में गहरी दोस्ती थी, जहां भी जाना होता था दोनों साथ-साथ जाती थीं। 28 अप्रैल को रेखा की शादी होने वाली थी। ग्रामीणों का कहना है कि शादी तय होने के बाद से ही दोनों परेशान रहने लगी थीं।

पुलिस का कहना है कि दोनों आपस में प्रेम करती थीं और जीवन भर साथ रहना चाहती थीं। उनके रिश्ते को परिवार और समाज द्वारा नहीं अपनाए जाने के कारण वे बेहद हताश थीं। साथ जीना संभव न होने के चलते दोनों ने साथ मरने का निर्णय लिया और सुसाइड कर लिया।