अगर आपको भी होते हैं वैक्सिंग के बाद दाने तो ट्राई करें शुगरिंग..

अगर आपको भी होते हैं वैक्सिंग के बाद दाने तो ट्राई करें शुगरिंग..

क्या आपको वैक्सिंग के बाद दाने और रैशेज हो जाते हैं?  ऐसे में आपको शुगरिंग करानी चाहिए. इस बारे में ब्यूटी एक्सपर्ट्स का भी यही कहना है. अगर आप नहीं जानते हैं सुगरिंग के बारे में तो जानते हैं किस तरह से आपकी स्किन के लिए लाभकारी है. 

शुगरिंग क्या है ?
शुगरिंग वैक्सिंग का प्राकृतिक तरीका है. इन्ग्रोन हेयर और रैशेज आदि समस्याओं से परेशान लोग अनचाहे बालों को निकालने के लिए वैक्सिंग के बजाय शुगरिंग करा सकते हैं. शुगरिंग में वैक्सिंग स्ट्रीप्स का इस्तेमाल नहीं किया जाता. शुगरिंग करने वाले व्यक्ति शुगर पेस्ट को बालों के उगने की उल्टी दिशा में लगाता है और  इसको एक विशेष तरीके से आपकी त्वचा से छुड़ाते हैं और बाल निकल जाते हैं. यह पेस्ट नींबू, शक्कर और पानी के मिश्रण से बनता है जो शरीर के किसी भी हिस्से में इस्तेमाल के लिहाज से सुरक्षित होता है.

इंफेक्शन नहीं होता- शुगरिंग में पेस्ट का एक गोला बनाया जाता है और उसी की मदद से प्रक्रिया पूरी की जाती है. जबकि वैक्सिंग में मिश्रण को बार-बार गर्म करके उसे अलग-अलग लोगों के लिए इस्तेमाल किया जाता है. शुगरिंग बॉल को गोल-गोल करके त्वचा से हटाया जाता है इसीलिए बाल सफाई से इसमें छुप जाते हैं और इस तरह बैक्टेरिया या इंफेक्शन नहीं फैल पाता.

रैश नहीं होता- शुगरिंग में आपकी त्वचा पर लाली या रैशेज नहीं होते क्योंकि इसमें बालों को खींचकर नहीं निकाला जाता. यही नहीं प्राकृतिक तत्वों के इस्तेमाल की वजह से त्वचा में जलन भी महसूस नहीं होती.

पेस्ट त्वचा पर नहीं चिपकता- वैक्सिंग के बाद त्वचा पर चिपका हुआ वैक्स और उसके दाग भी आपकी परेशानी का एक सबब बन जाते हैं. लेकिन शुगरिंग में ऐसा नहीं होता. यही नहीं यह पानी में आसानी से घुलने की वजह से साफ हो जाता है और त्वचा पर सख्त होकर चिपकता नहीं. अगर यह त्वचा पर रह भी गया तो गर्म पानी और टॉवेल से पोंछकर निकाला जा सकता है.

अच्छे परिणाम- प्राकृतिक होने के साथ-साथ शुगरिंग के परिणाम भी काफी अच्छे होते हैं. जहां वैक्सिंग में त्वचा की सतह पर बाल टूट सकते हैं. वहीं शुगरिंग में बाल रोमकूपों से निकल जाते हैं और इसी वजह से उन्हें दोबारा उगने में समय लगता है. वैक्सिंग में अक्सर बहुत छोटे बाल नहीं निकल पाते और ट्रीटमेंट के 4-5 दिनों में नए बाल दिखने लगते हैं लेकिन शुगरिंग में ऐसा नहीं होता. 

घर में बना कॉफ़ी स्क्रब बनाएगा स्किन को खूबसूरत, ऐसे करें इस्तेमाल

सिर दर्द और तनाव को इस तरह दूर करता चन्दन

लम्बे समय तक इस्तेमाल करती हैं ब्यूटी प्रोडक्ट्स तो जान लें इनकी एक्सपायरी डेट