सुब्रमण्यम स्वामी ने मोदी सरकार को दी सलाह, बताया किसान आंदोलन का समाधान

नई दिल्ली: भाजपा के राज्यसभा सांसद सुब्रमण्‍यम स्‍वामी अक्सर ही अपनी पार्टी पर हमला करने को लेकर सुर्ख़ियों में रहते हैं, पिछले कई दिनों से वो बिना नाम लिए अपने ही पार्टियों के नेता पर निशाना साध रहे हैं।  उन्होंने ने आज भाजपा को सलाह देते हुए ट्वीट किया है कि राष्ट्र अब कई आयामों में एक गंभीर स्थति में है। जिसमें से मैंने ये तीन की सूची पहले ही बनाई है, कोरोनावायरस, अर्थव्यवस्था और चीन की आक्रामकता। 

स्वामी ने आगे कहा कि अब किसान आंदोलन के टकराव की संभावना व्यक्त की जा रही है। एक समाधान है कि राज्यों को वैकल्पिक कर देना चाहिए। फिर भाजपा शासित राज्य अपने परिणाम दिखाए। गौरतलब है कि भाजपा के दिग्गज नेता सुब्रमण्‍यम स्‍वामी ने भारत में जारी वैक्सीन की किल्लत को दूर करने के लिए पिछले दिनों भी ट्वीट के जरिए राज्यों को सलाह दी थी कि केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार को अग्रिम चेतावनी देनी चाहिए कि कोरोना वैक्सीन की पर्याप्त सप्लाई न मिलने से सभी गैर-भाजपा शासित राज्य एकजुट हो सकते हैं। 

सुब्रमण्‍यम स्‍वामी ने कहा है कि तमाम विपक्षी राज्य एकजुट होकर विदेश से वैक्सीन ऑर्डर करें और उसका बिल मोदी सरकार को भेजें। वही उन्होंने किसान कानून पर जारी आंदोलन के बारे में भी केंद्र सरकार को रास्ता बताया था, उन्होंने पीएम नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर कहा था कि  कानूनों को जरुरी तौर पर पूरे देश में लागू नहीं किया जाए। इसकी जगह वे राज्य जहां के किसान, कृषि सुधार संबंधी कानून चाहते हैं, वे केन्द्र सरकार को इस संबंध में लिखित जवाब दे सकते हैं। इसके बाद उन राज्यों में कानूनों को लागू किया जाए। उन्होंने ये सुझाव भी दिया था कि अनाजों की खरीददारी केवल वहां तक ही सीमित किया जाना चाहिए जहां पर कृषि व्यापार के अतिरिक्त दूसरा कोई और वाणिज्यिक और व्यावसायिक हित नहीं है।

शशि थरूर की संसद की सदस्यता समाप्त की जाए.., भाजपा सांसद की मांग

किसान आंदोलन के समर्थन में उतरी बसपा, मयावती बोलीं- किसानों से बात करे सरकार

केरल विधानसभा के अध्यक्ष चुने गए हैं एमबी राजेश

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -