टीमों के निलंबन पर सुब्रमण्यम ने अदालत का दरवाजा खटखटाया

Sep 22 2015 02:22 PM
टीमों के निलंबन पर सुब्रमण्यम ने अदालत का दरवाजा खटखटाया

चेन्नई : भारतीय जनता पार्टी के नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने बीते दिन यानि कि सोमवार को मद्रास हाई कोर्ट में एक याचिका दायर की है। बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने याचिका में इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) की टीमों चेन्नई सुपर किंग्स और राजस्थान रॉयल्स को  बैन करने के निर्णय पर मुद्दा उठाया है। सुब्रमण्यम स्वामी के अनुसार, इंडियन प्रीमियर लीग के पूर्व कमिश्नर ललित मोदी के हस्तक्षेप होने की वजह से चेन्नई सुपर किंग्स और राजस्थान रॉयल्स दोनों टीमों के साथ सही निर्णय नहीं लिया गया और दोनों टीमों में इन पर सही तरीके से कार्रवाई नहीं हुई है।

भारतीय जनता पार्टी के नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने याचिका में कहा है, "क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ बिहार की ओर से राजनीति से प्रेरित और गलत नियति से दाखिल की गई याचिका पर मुंबई उच्च न्यायालय, सर्वोच्च न्यायालय और न्यायमूर्ति (सेवानिवृत्त) मुकुल मुद्गल की अध्यक्षता वाली समिति और न्यायमूर्ति आरएम लोढ़ा समिति की कार्यवाही पूरी तरह गलत दिशा में हुई।"

भारतीय जनता पार्टी के नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने स्वयं के पास कुछ पुख्ता दस्तावेज होने का भी दावा किया है और सुब्रमण्यम स्वामी ने मामले से संबद्ध लोगों की पहचान गोपनीय रखने के उद्देश्य से वह इन दस्तावेजों को अदालत के समक्ष बंद लिफाफे में ही पेश करेंगे।

भारतीय जनता पार्टी के नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने यह दावा भी किया है की आईपीएल की चेन्नई सुपर किंग्स और राजस्थान रॉयल्स दोनों टीमों के साथ अन्याय हुआ है और एकतरफा कार्रवाई की गई है।