चेक महिला से भी की थी नेताजी ने शादी, दोनों की थी एक बेटी

Sep 22 2015 02:39 PM
चेक महिला से भी की थी नेताजी ने शादी, दोनों की थी एक बेटी

कोलकाता : हाल ही में पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी के नेतृत्व वाली सरकार ने नेताजी सुभाषचंद्र बोस के जीवन से जुड़ी 64 फाईलों को सार्वजनिक किया था। इसके बाद नेताजी सुभाषचंद्र बोस के जीवन से जुड़ी कई महत्वपूर्ण जानकारियों का खुलासा हुआ है। ये जानकारियां सामने आने के बाद भी इस बात पर संशय बना हुआ है कि आखिर नेताजी की मृत्यु विमान हादसे में हुई थी या नहीं। इन दस्तावेजों में शामिल फाईल नंबर 43 यह जाहिर करती है कि नेताजी की मृत्यु विमान हादसे में नहीं हुई थी।

नेताजी से जुड़ी इस फाईल में जानकारी सामने आई है कि नेताजी ने एक और महिला से शादी की थी। यह महिला चेकोस्लोवाकिया की थी। इस महिला से नेताजी को एक बेटी प्राप्त हुई थी। इस बेटी का नाम निमा रखा गया। हालांकि नेताजी के एक रिश्तेदार सौगत बोस ने नेताजी से जुड़ी इन बातों को बकवास बताया है। उल्लेखनीय है कि यह कहा जाता रहा है कि नेताजी ने एमिली शेंकल से विवाह किया था। उनकी अनीता नामक एक बेटी थी। 

मिली जानकारी के अनुसार नेताजी से जुड़ी इस फाईल में 12 मई 1948 का उल्लेख करते हुए कहा गया है कि जब नेताजी के भतीजे 1947 में स्टूडेंट कांफ्रेंस में शामिल होने पहुंचे थे। यहां अरबिंदो की भेंट चेकोस्लोवाकिया की महिला से हुई थी। महिला ने नेताजी के पत्र अरबिंदो को दिए। इन पत्रों में क्रिप्स मिशन का उल्लेख था। 1942 में द्वितीय विश्वयुद्ध से भी पहले ब्रिटिश सरकार द्वारा एक प्रस्ताव तैयार किया गया था। जिसमें यह कहा गया कि भारत के लोग और कुछ नेताओं द्वारा ब्रिटिश सरकार की सहायता की गई थी। कहा गया था कि लड़ाई समाप्त होने के बाद भारतीयों को भारत में शासन करने के अधिकार दे दिए जाऐंगे।

इस अधिकारी ने अपने एक नोट में लिखा था कि एक महिला ने अरबिंदो को नेताजी के पत्र सौंपे। इन पत्रों के साथ ही कुछ लेख भी थे। अरबिंदो से उस महिला ने कहा कि अरबिंदो तीसरे भाग को प्रकाशित न करें क्योंकि यह नेताजी की मौत के रहस्य से जुड़ा था। इस पत्र में कहा गया था कि उनकी मौत प्लेन क्रेश में नहीं हुई थी। इस मामले में इंटेलिजेंस की रिपोर्ट थी कि इस चेक महिला से नेताजी ने यूरोपीय दौरे के तहत विवाह कर लिया था। इन दोनों की एक बेटी थी। इसका नाम निमा रखा गया।

मुंबई से प्रति माह इस महिला को भोजन सामग्री भेजी जाती थी। इस मामले में भारतीय दूतावास ने कहा कि नेताजी यहां 1933 और 1938 के बीच आए थे। उनका दो बार यहां आना हुआ था। नेताजी द्वारा एववर्ड बेंस से भी भेंट की गई थी। हालांकि कुछ लोगों ने नेताजी की दूसरी शादी की बात को नकार दिया है। उनका कहना है कि उनकी शादी एमिनी से ही हुई थी और उनकी एक बेटी अनिता है। यह भी माना जा रहा है कि यह रिपोर्ट एमिनी शेंकल और अनिता के बारे में ही हो।