नेताजी के गायब होने के बाद भी था उनका पत्नी से संपर्क

Sep 19 2015 02:18 PM
नेताजी के गायब होने के बाद भी था उनका पत्नी से संपर्क

कोलकाता : भारत के वीर स्वाधीनता संग्राम सेनानी और आजाद हिंद फौज के संस्थापक नेताजी सुभाषचंद्र बोस की मृत्यु और उनके जीवन से जुड़ी कई रोचक जानकारियां हाल ही मे सामने आई हैं। जी हां, पश्चिम बंगाल सरकार द्वारा सार्वजनिक तौर पर कहा गया कि नेताजी के गायब होने के बाद उनकी पत्नी एमिली शेंकल और नेताजी सुभाषचंद्र बोस के बीच संपर्क था। 4 मई 1946 को कोलकाता पुलिस सिक्युरिटी कंट्रोल के वीकली सर्वे में एमिली का उल्लेख करते हुए कहा गया कि नेताजी की भेंट एमिली से 1941 में हुई थी और दोनों दो वर्षों तक साथ रहे थे। वर्ष 1942 को एमिली को नेताजी बोस ने विवाह का प्रस्ताव  दिया था।

नेताजी और एमिली का विवाह कानूनी नहीं कहा गया। मामले में यह बात भी सामने आई है कि 29 नवंबर 1942 को दोनों की एक बेटी हुई बेटी का नाम अनिता था। बेटी के जन्म के बाद एमिली वियना चली गईं। नेताजी सुभाषचंद्र बोस ने कहा कि शरत चंद्र बोस के नाम से नेताजी ने एक पत्र लिखा था। दरअसल नेताजी ने एमिली को कहा था कि यदि उन्हें कुछ हो गया तो वह उनके द्वारा दिए पत्र और फोटोग्राफ्स को उनके घर भिजवा देे।

नेताजी ने बेटी अनिता को जब आखिरी बार देखा, तब उसकी उम्र महज चार हफ्ते थी। एमिली को नेताजी की मौत की खबर वर्ष 1945 को मिली। एमिली ने नेताजी के परिवार को एक पत्र लिखा और पत्र में कोलकाता पुलिस की इंटेलिजेंस यूनिट के हाथ लगा। एक और रहस्यमय जानकारी सामने आई है कि भारत सरकार को यह अनुभव होता था कि नेताजी जिंदा हैं या नहीं।  यदि वे जीवित हैं तो इसका पता एमिली और अनिता को भी लगेगा।