5 मिनट फिल्म देखना छात्र को पड़ा महंगा, हुई 14 साल जेल की सजा

दुनियाभर से आए दिन कई तरह के अजीबोगरीब मामले सामने आते रहते है। इस उत्तर कोरिया से एक मामला सामने आ रहा है जिसमे कथित रूप से एक दक्षिण कोरियाई मूवी को देखने के लिए एक स्कूली विद्यार्थी को 14 वर्ष जेल की सजा सुनाई है। प्राप्त हुई एक रिपोर्ट के अनुसार, 14 वर्षीय विद्यार्थी को किम ह्योंग-जिन द्वारा डायरेक्टेड एक मिस्ट्री ड्रामा 'द अंकल' देखने के लिए 7 नवंबर को हिरासत में लिया गया था। फिल्म को देखने वाला विद्यार्थी हाइसन सिटी के स्कूल से था।

वही विद्यार्थी को फिल्म देखने के पांच मिनट के अंदर गिरफ्तार कर लिया गया तथा उसे 14 वर्ष की कड़ी मेहनत की सजा सुनाई गई। ऐसी भी चिंताएं हैं कि उत्तर कोरिया में उपस्थित 'एसोसिएशन सिस्टम' की वजह से विद्यार्थी के माता-पिता को दंडित किया जा सकता है। इससे पूर्व एक शख्स को पोर्न देखते पकड़ने पर उसके अभिभावकों को राजनीतिक जेल भेज दिया गया था। 'एसोसिएशन सिस्टम' के तहत, यदि गैर-जिम्मेदार शिक्षा की वजह से सांस्कृतिक अपराध होता है तो जिम्मेदार व्यक्तियों पर 200,000 की पेनल्टी लगाई जा सकती है। इसके अतिरिक्त यदि अपराध करने वाला 5 वर्ष से ज्यादा और 15 वर्ष से कम आयु का है तो उसे 'सुधारात्मक श्रम' की सजा सुनाई जा सकती है।

वही ऐसा माना जाता है कि उत्तर कोरिया में युवा लोगों के मध्य दक्षिण कोरियाई फिल्में तेजी से मशहूर हो रही हैं तथा इससे निपटने के लिए उत्तर कोरिया की सरकार कानूनों को यथासंभव कठोरता से लागू कर रहा रही है। सूत्र ने कहा कि हाल ही में 'असामाजिक और गैर-समाजवादी गठबंधन कमांड टीम' की गतिविधियां पहले से कहीं ज्यादा तेज हो गई हैं।

OMG! अब रोबोट भी पैदा कर सकेंगे बच्चे

तुर्की कोविड-19 के म्यूटेशन ओमीरॉन के खिलाफ हाई अलर्ट पर है

दक्षिण कोरिया: बढ़ते संक्रमण के बीच मून जे-इन ने नियमों में और ढील देने को कहा है

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -