पाकिस्तान में मोहम्मद अली जिन्ना की मूर्ति को बम से उड़ाया

इस्लामाबाद: पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रांत के तटीय शहर ग्वादर में विद्रोहियों ने पाकिस्तान के स्थापक मोहम्मद अली जिन्ना की मूर्ति को बम धमाके से नष्ट कर दिया। ‘डॉन‘ में सोमवार (27 सितंबर, 2021) को प्रकाशित खबर के अनुसार, सुरक्षित क्षेत्र माने जाने वाले मरीन ड्राइव पर जून में स्थापित की गई मूर्ति को रविवार की सुबह बम लगाकर उड़ा दिया गया। विस्फोट में प्रतिमा पूरी तरह से ध्वस्त हो गई है।

रिपोर्ट के मुताबिक, बलूच रिपब्लिकन आर्मी के प्रवक्ता बबगर बलोच ने ट्विटर पर इस ब्लास्ट की जिम्मेदारी ली है। रिपोर्ट में ग्वादर के उपायुक्त मेजर (रिटायर्ड) अब्दुल कबीर खान के हवाले से बताया गया है कि मामले की हाई लेवल जाँच की जा रही है। उन्होंने कहा कि विस्फोटक लगाकर जिन्ना की प्रतिमा को नष्ट करने वाले टूरिस्ट के रूप में क्षेत्र में घुसे थे। उनके अनुसार अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है, किन्तु एक-दो दिन में जाँच पूरी कर ली जाएगी। उन्होंने आगे कहा कि, 'हम मामले को सभी बिंदुओं से देख रहे हैं और जल्द ही दोषियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।'

बलूचिस्तान के पूर्व गृह मंत्री और सीनेटर सरफराज बुगती ने ट्वीट करते हुए बताया है कि 'ग्वादर में कायदे आज़म (Quaid-e-Azam) की मूर्ति को गिराना पाकिस्तान की विचारधारा पर हमला है। मैं अधिकारियों से अपराधियों को उसी तरह से दंडित करने का आग्रह करता हूँ, जैसे हमने ज़ियारत में कायदे-आज़म निवास पर हमला करने वालों को किया था।'

दाढ़ी बनवाने वालों की अब खैर नहीं..., अफ़ग़ानिस्तान में 'तालिबान' ने जारी किया नया फरमान

जर्मनी: सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ने संघीय चुनावों में जीतीं सबसे अधिक सीटें

अफगान एयरलाइन ने 155 परिवार के सदस्यों के साथ अबू धाबी से भरी उड़ान

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -