राज्यपाल आनंदीबेन ने दिया बड़ा बयान, कहा-रामराज्य की परिकल्पना साकार...

राज्यपाल आनंदीबेन ने दिया बड़ा बयान, कहा-रामराज्य की परिकल्पना साकार...

गुरुवार को बजट सत्र के पहले दिन सदन में विपक्ष के हंगामे के बीच राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने पूरा अभिभाषण पढ़ा. उन्होंने उत्तर प्रदेश सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए रामराज्य की परिकल्पना साकार करने को अपनी प्राथमिकता बताया. राज्यपाल ने जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी देते हुए कृषि कुंभ, गंगा यात्रा, ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी से लेकर हाल में हुए डिफेंस एक्सपो को भी अपने भाषण में गिनाया.

दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था इस वजह से हुई स्लोडाउन

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि दोनों सदनों की संयुक्त बैठक में लगभग 55 मिनट के अभिभाषण के दौरान समाजवादी पार्टी, कांग्रेस और बहुजन समाज पार्टी के सदस्यों ने वेल में पहुंच सरकार विरोधी नारे लगाए और पोस्टर लहराए. इससे पूर्व सपा व कांग्रेस सदस्यों ने एलपीजी महंगी होने के विरोध मे चौधरी चरण सिंह की प्रतिमा के निकट गैस का सिलेंडर व गन्ना, प्याज लेकर धरना दिया.

ऑस्ट्रेलिया के जंगलों की आग को प्रकृति ने बुझाना किया शुरू

अगर आपको नही पता तो बता दे कि अभिभाषण के लिए राज्यपाल आनंदीबेन विधानसभा अध्यक्ष हृदयनारायण दीक्षित व विधानपरिषद सभापति रमेश यादव के साथ सुबह 11 बजे सदन में पहुंची. राष्ट्रगान के बाद सपा, बसपा व कांग्रेस के साथ सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के सदस्यों ने अपनी सीटों पर खड़े होकर राज्यपाल वापस जाओ, झूठ का पुलिंदा मत सुनाओ, जैसे नारे लगाने शुरू कर दिए और वेल में पहुंच गए. विपक्षी सदस्य सरकार विरोधी नारे लिखी लाल, नीली, पीली और सफेद टोपियां लगाए थे और पोस्टर भी लिए थे.

दिल्ली में हार के बाद सिंधिया ने दिया बड़ा बयान, कहा- "हमें एक नई विचारधारा की जरुरत...''

क्या माइक्रोसॉफ्ट सीईओ 'सत्या नडेला' का भारत दौरा होगा सफल?

कासिम सुलेमानी की मौत के बाद नाटो ने सुरक्षा को लेकर उठाया महत्वपूर्ण कदम