मध्यप्रदेश में नए सिरे से तैयार किए जाएंगे एक हजार किलोमीटर के राज्य मार्ग

भोपाल (ब्यूरो रिपोर्ट): मध्य प्रदेश में एक हजार किमी से अधिक लंबाई के 17 राज्य मार्ग (स्टेट हाईवे) नए सिरे से तैयार किए जाएंगे। सरकार ने इसके लिए नई योजना तैयार की है। इसमें 15 साल तक निर्माण एजेंसी ही सड़क का संधारण (मेंटेनेंस) कार्य करेगी। राज्य सड़क विकास निगम को इन सड़कों पर टोल टैक्स लगाने का अधिकार रहेगा। मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस द्वारा की गई लोक निर्माण विभाग की समीक्षा में इस प्रस्ताव पर सहमति बनी है। अब इसे कैबिनेट में प्रस्तुत किया जाएगा।

विभागीय मंत्री गोपाल भार्गव का कहना है कि प्रदेश में सड़क नेटवर्क का लगातार विस्तार हो रहा है। केंद्र सरकार से राष्ट्रीय राजमार्ग, रेलवे ओवर ब्रिज, फ्लाई ओवर आदि के लिए काफी सहायता मिल रही है। राज्य सरकार भी अपने बजट और अन्य माध्यमों से वित्तीय संसाधन जुटाकर काम कर रही है।

मध्य प्रदेश सड़क विकास निगम के अधिकारियों ने बताया कि ऐसी सड़कें, जिन्हें नए सिरे से बनाने की जरूरत है, उन्हें चिन्‍ह‍ित किया गया है। इन 17 राज्य मार्ग को टू लेन बनाया जाएगा। इसके लिए विस्तृत परियोजना प्रतिवेदन तैयार कराए जा रहे हैं, जो दिसंबर 2022 तक पूरे हो जाएंगे। मार्च, 2023 तक निविदा प्रक्रिया पूरी करने का लक्ष्य रखा है। दो साल में निर्माण कार्य पूरा होगा।

ये राज्य मार्ग होंगे शामिल।

मनासा-रामपुरा-झालावाड़ : 116 किमी 406 करोड़ रुपये

पिछोर-इंदरगढ़ : 09 किमी 32 करोड़ रुपये

बिछिया-समनापुर-डिंडौरी : 53 किमी 186 करोड़ रुपये

सीधी-ब्यौहारी : 71 किमी 250 करोड़ रुपये 

विदिशा-अहमदपुर : 21 किमी 72 करोड़ रुपये 

बुधनी-इटारसी : 35 किमी 123 करोड़ रुपये 

नर्मदापुरम-टिमरनी : 72 किमी 253 करोड़ रुपये 

पथरिया-केरबना : 15 किमी 53 करोड़ रुपये 

बंडा-केरबना-बाटियागढ़ : 51 किमी 180 करोड़ रुपये

बलबारी-गंधवानी-डेहरी : 09 किमी 32 करोड़ रुपये

सोनकच्छ-गंधर्वपुरी : 12 किमी 41 करोड़ रुपये

कटनी-बरही-मानपुर-जयसिंहनगर : 12 किमी 41 करोड़ रुपये

नीमच-सिंगोली : 90 किमी 315 करोड़ रुपये

बदनावर-थांदला-हरिनगर : 90 किमी 315 करोड़ रुपये

रतलाम-झाबुआ : 105 किमी 368 करोड़ रुपये

मनावर-खलघाट-कुक्षी : 82 किमी 287 करोड़ रुपये

इंदौर-देपालपुर-इंगोरिया : 80 किमी 280 करोड़ रुपये अनुमति लागत।

क्रिस संग नजर आए विजय माल्या तो ट्रोलर्स ने लगा दी क्लास

पंत को किसने बना दिया इतना खूंखार बल्लेबाज़.., जो तेज गेंदबाज़ों को भी जड़ देता है रिवर्स स्वीप

इंदौर एयरपोर्ट पर अब यात्रियों को खुद नहीं करने पड़ेंगे अपने बैग स्कैन, शुरू होने जा रही नई सुविधा

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -