छत्तीसगढ़ में किसानों की मौत पर बीजेपी ने की मुआवजे की मांग

गवर्नमेंट आंकड़ों के अनुसार पिछले 10 माह में छत्तीसगढ़ में 141 किसानों ने खुद को मौत के घाट उतार लिया है। राज्य सरकार ने विधानसभा में शुक्रवार को यह सूचना दी। किसानों की खुदकुशी का मुद्दा उठाते हुए विपक्षी दल बीजेपी ने इस केस में कार्रवाई कराने और मृतक किसानों के परिजनों के लिए उचित मुआवजे की मांग की।

विपक्ष के नेता धर्मलाल कौशिक ने प्रश्न काल के बीच किसानों का मुद्दा बन चुका है। उन्होंने गवर्नमेंट से पूछा कि अप्रैल 2020 से फरवरी 2021 तक प्रदेश में कितने किसानों ने खुदकुशी की और उनके इस कदम को उठाने का कारण क्या था। उन्होंने साथ ही सरकार द्वारा इसे रोकने के लिए उठाए गए कदमों की सूचना की भी मांग कर ली है।

जंहा इस बात का पता चला है कि जवाब में राज्य के कृषि मंत्री रवींद्र चौबे ने कहा कि 141 किसानों ने खुदकुशी कर ली है। उन्होंने कहा है कि कोंडागांव जिले में निचले स्तर के एक राजस्व अधिकारी को बर्खास्त किया जा चुका है। इस पर कौशिक ने सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि एक नहीं इस तरह के सभी मामलों में जांच होनी चाहिए और सभी मृतक किसानों के परिवारों को मुआवजा मिलना चाहिए।

गेम टास्क पूरा करने के लिए बच्चे ने किया महिला पर चाकू-हथौड़े से हमला, फिर हुआ ये...

ओडिशा सरकार ने लिया बड़ा फैसला, दूसरे राज्यों से स्वदेश लौटने वाले लोगों को करना होगा ये काम

'यौन शक्ति' बढ़ाने के लिए गधे का मांस खा रहे आंध्र के लोग, 600 रुपए किलो बिक रहा गोश्त

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -