श्रीलंका चीन पर और चीन श्रीलंका पर है कुछ खास मेहरबान

कोलंबो : श्रीलंका के प्रधानमंत्री रानिल विक्रम सिंघे ने कहा है कि चीन की पनडुब्बियों का श्रीलंका में स्वागत करेगी। श्रीलंकाई प्रधानमंत्री चीन की पनडुब्बियों को सशर्त यात्राँए करने की इजाजत दे रहे है, लेकिन वो कम अंतराल पर न हो और इसकी सूचना वो सभी को देंगे। उन्होंने स्ट्रेट टाइम्स में प्रकाशित अपने इंटरव्यू में बताया कि श्रीलंका ने नौसैनिक जहाजों के लिए कुछ मानदंड तय किए है, जिसके तहत सभी देशों की पनडुब्बियाँ समेत जहाज भी श्रीलंका की यात्रा कर सकेगी।

यदि यह यात्रा मैत्री पूर्ण रही तो पड़ोसी गेशों को सूचित करने के साथ-साथ इसके अंतराल को भी बढ़ाया जाएगा। इसके साथ ही यह कयास भी लगाए जा रहे है चीन इसके जरिए भारत को घेरने की तैयारी में है। गौरतलब है कि चीनी पनडुब्बियों की पिछली अक्स्मात् यात्राओं की जानकारी भारत को नहीं दी गई थी, जिससे दोनो देशों के बीच तल्ख तीखी हो गई थी।

साथ ही श्रीलंकाई प्रधानमंत्री सिंघे ने भारत से सुधरते संबंधो की भी चर्चा की। आपको बता दें कि पिछले दिनों चीन ने भी श्रीलंका में हाइवे निर्माण किए है और कई एन्य प्रोजेक्टस में निवेश भी किया है।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -