राम मंदिर मामले पर श्री श्री रविशंकर का बड़ा बयान, कहा कदम मिलाकर चलना होगा

बेंगलुरु: रामजन्म भूमि-बाबरी मस्जिद भूमि विवाद मामले में मध्यस्थता के लिए सुप्रीम सपोर्ट द्वारा नियुक्त समिति के सदस्य आध्यात्मिक गुरु श्री श्री रविशंकर ने कहा है कि लंबे समय से चले आ रहे विवादों को समाप्त करने के लिए हर किसी को निश्चित रूप से मिलकर कदम उठाना होगा। सुप्रीम कोर्ट के पूर्व न्यायाधीश एफ एम आई कलीफुल्ला के नेतृत्व में तीन सदस्यीय समिति में श्री श्री के अलावा वरिष्ठ अधिवक्ता श्रीराम पंचू का नाम भी शामिल हैं। 

2018-19 में रिकॉर्ड तोड़ेगा देश का वस्तु निर्यात स्तर

श्री श्री रविशंकर ने कहा है कि, ‘‘लंबे समय से चले आ रहे इस विवाद को समाप्त करने की दिशा में हम सभी को निश्चित रूप से समाज में सौहार्द बनाये रखते हुए प्रसन्नता से मिलकर कदम उठाना चाहिए।’’ उन्होंने ट्वीट किया, सबका सम्मान करना, सपनों को साकार करना, सदियों के संघर्ष का सुखांत करना और समाज में समरसता बनाए रखना - इस लक्ष्य की ओर सबको चलना है।

डॉलर के मुकाबले रुपये में नजर आई 26 पैसे की कमजोरी

उल्लेखनीय है कि सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को राजनीतिक रूप से संवेदनशील इस मामले को मध्यस्थता के लिए भेज दिया है और समिति को इस प्रक्रिया को संपन्न करने के लिए आठ हफ्तों का वक़्त दिया है। मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई के नेतृत्व वाली संविधान पीठ ने कहा है कि यह समिति चार हफ्ते के अंदर इसकी प्रगति रिपोर्ट दायर करे और आठ सप्ताह के अंदर प्रक्रिया पूरी कर लें।

खबरें और भी:-

HONOR के इन फोन को खरीदने के लिए लगी कतार, मिल रहा छप्पड़फाड़ डिस्काउंट

सेंसेक्स की सुस्त शुरुआत, गंवाई चार दिन की बढ़त

महिला दिवस के मौके पर 44 नारियों को राष्ट्रपति के हाथों मिलेगा सशक्तिकरण पुरस्कार

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -