पहले T-20 में श्रीलंका से हारी भारत, धोनी ने पिच पर निकाला गुस्सा

Feb 10 2016 08:24 AM
पहले T-20 में श्रीलंका से हारी भारत, धोनी ने पिच पर निकाला गुस्सा

पुणेः श्रीलंका ने पहले टी-20 मैंच में धुंआ धार गेंदबाजी की। यह मैच महाराष्ट्र के पुणे में खेला गया था। जिसमें पहले टी-20 मैंच में श्रीलंका ने भारत को 5 विकेट से हरा दिया था। इस मैच में भारत की पूरी टीम 18.5 ओवर में 101 रन ही बना कर पूरी टीम ही आॅलाउट हो गई थी और वहीं श्रीलंका ने 18 ओवर में 5 विकेट के नुकसान पर 105 रन बनाकर जीत को अपने नाम कर लिया।

इस मैच में पहले बल्लेबाजी भारत ने कि थी जिसमें भारत ने श्रीलंका के लिये 102 रनों का लक्ष्य रखा था। और जब श्रीलंका बल्लेबाजी पर उतरा तो पहली जोड़ी निरोशन डिकवेला और दनुष्का की थी, लेकिन इनकी जोड़ी को भारत ने ज्यादा देर तक टिकने नंही दिया था। दोनों को भारत ने जल्दी ही आउट कर दिया। इसके बाद दिनेश चांडीमल और चमारा कपुगेदरा ने पूरी पारी को संभाल लिया। दोनों बल्लेंबाजों के बीच 39 रनों की साझेदारी हुई थी कि कपुगेदरा को 11.3 वें ओवर में 25 रनों के निजी स्कोर पर आउट कर दिया। उसके बाद 14.5वें ओवर में दिनेश चांडीमल भी 35 रन बना कर उनके पीछे-पीछे चलते बने।

दोनों की अच्छे बल्लेबाजी के बाद अश्विन ने दसुन शनाका को भी 3 रन से बाहर कर दिया और श्रीलंका का इतना नुकसान होने के बाद सीक्कुगे प्रसन्ना और मिलिंदा सिरिवर्दना मैदान में उतरे और इन दोनों ने बिना कोई जोखिम उठाये 12 गेंद पहले 5 विकेट के साथ श्रीलंका को जीत दिला दी। इस पूरे मैच में भारत कि टीम की ओर से रविचंद्रन और आशीष नेहरा ने 2-2 विकेट लिये जबकि सुरेश रैना ने 1 विकेट चटकाए।

टीम इंडिया की पहली पारी में शिखर धवन और रोहित शर्मा बल्लेबाजी के लिए उतरे थे, लेकिन शायद उस समय रोहित शर्मा की किस्मत खराब थी वो बिना खाता खोलते हुए कसुन रजिता के पहले ओवर की दूसरी गेंद पर ही आउट हो गया।

रोहित के बाद बैंटिगं के लिए अजिंक्य रहाणे जिन्होने मात्र 4 रन ही बना पाये और पहले ओवर की आखरी गेंद पर कैंच आउट हो गये। भारत का इतना नुकसान सहने के बाद सुरेश रैना ने भारतीय पारी को संभालने का तो प्रयास किया, पंरतु मात्र 9 रन बनाकर धवन सफल नहीं रह पाये और 5वें ओवर की आखिरी गेंद पर कैंच आउट हो गए।

इसके बाद तो सुरेश रैना और युवराज ने कमान संभाली लेकिन टीम के स्कोर को ज्यादा न ले जा पाये मात्र 49 रनों तक ही ले जा सके। रैना 8.2वें ओवर में 20 रनों के निजी स्कोर पर दसुन सनाका की गेंद के आगे नहीं टिक पाये। रैना के बाद टीम में मात्र 2 रन ही जुड़ पाये थे कि कप्तान एमएस धोनी भी लुड़क गए। इसके बाद युवराज भी 9.4 वे ओवर में चमीरा की गेंद पर बोल्ड हो गए। इसके बाद रवींद्र जडेजा और हार्दिक ने टीम को संभालने का प्रयास किया था। लेकिन 11 वें ओवर की आखिरी गेंद में शनाका कि गेंद पर 2 रन ही बना पाए और आउट हो गए। ऐसा करते हुए भारतीय टीम मात्र 101 रनों पर ही ढेर हो गई। भारत की और से अश्विन ने सबसे ज्यादा नाबाद 21 रन बनाए।

मैच के बाद टीम इंडिया के कप्तान एमएस धोनी ने हार का जिम्मेदार पिच को ठहराया। उन्होंने कहा, पिच बैटिंग को सपोर्ट नहीं कर रही थी। उन्होंने कहा ये पिच भारतीय नहीं, इंग्लिश विकेट की तरह थी। धोनी ने ये बातें बॉलर्स को मिले स्विंग को लेकर कही।