हैदराबाद पहुंचा स्पुतनिक-वी का सबसे बड़ा शिपमेंट, टीकाकरण अभियान को मिलेगी रफ़्तार

हैदराबाद: भारत में जारी कोरोना टीकाकरण के अभियान को रफ्तार मिल रही है. इसी क्रम में मंगलवार को हैदराबाद में रूसी वैक्सीन स्पुतनिक-वी की सबसे बड़ी खेप पहुंची. लगभग 56.6 मीट्रिक टन का शिपमेंट हैदराबाद पहुंचा, इनमें लगभग 30 लाख वैक्सीन की खुराक हैं जो जल्द ही देश में इस्तेमाल के लिए उपलब्ध होंगी. 

ये रूस से आया स्पुतनिक-वी का तीसरा और अब तक का सबसे बड़ा शिपमेंट है. यहां हवाई अड्डे पर इस शिपमेंट को डिस्पैच करने की प्रक्रिया 90 मिनट में पूरी कर ली गई. इस वैक्सीन के शिपमेंट को -20 डिग्री तापमान में रखा जाना है, ऐसे में बड़ी ही सावधानी के साथ इसे यहां से ले जाया गया. बता दें कि भारत में हैदराबाद की डॉ. रेड्डी लैब्स के साथ मिलकर ही स्पुतनिक-वी का निर्माण किया जा रहा है. हालांकि, भारत में इसका उत्पादन शुरू हो गया है, किन्तु भारत में बनने वाली वैक्सीन जुलाई-अगस्त तक बाजार में आने की संभावना है. 

ऐसे में शुरुआती इस्तेमाल के लिए भारत को रूस से ही निरंतर स्पुतनिक-वी भेजी जा रही हैं. भारत में स्पुतनिक-वी का इस्तेमाल आरंभ हो गया है. जून के दूसरे सप्ताह में ये वैक्सीन कुछ निजी अस्पतालों में मिलना भी शुरू हो जाएगी. कोरोना वैक्सीन पंजीकरण के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले कोविन पोर्टल पर भी स्पुतनिक-वी का विकल्प दिखा रहा है. 

अदार पूनावाला ने मैग्मा फिनकॉर्प के अध्यक्ष के रूप में संभाला पद

ज्यादातर कंपनियों के लिए प्रबंधनीय क्रेडिट प्रभाव पर फिच ने कही ये बात

पीएनबी हाउसिंग फिन कार्लाइल ग्रुप से 4,000 करोड़ रुपये तक जुटाएं

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -