अलीगढ़ में नकली शराब पीने से हुई 15 लोगों की मौत

अलीगढ़ में 3 स्थानों पर जहरीली शराब पीने से शुक्रवार को 15 लोगों की जान चली गई है और 16 लोग बीमार होकर हॉस्पिटल में भर्ती हैं। इस केस में ज़हरीली शराब बेचने के एक मुख्य अभियुक्त को हिरासत में लिया जा चुका है, जबकि फरार 2 मुख्य अभियुक्तों पर 50-50 हज़ार रुपये का इनाम का एलान किया जा चुका है। शुक्रवार सुबह सबसे पहले अलीगढ़ के करसुआ गांव से ज़हरीली शराब से 7 लोगों की मौत कि खबर सामने आई है। फौरन ही घटनास्थल पर ज़िले के आला अफसरान पहुंचे तो हैबतपुर गांव में भी ज़हरीली शराब से एक और मौत की खबर आई।

कुछ वक्त के उपरांत छेरत गांव में चार लोगों की जान चली गई। रात होते ही शराब से और लोगों के मरने की खबर सामने आई। इन सब लोगों ने गवर्नमेंट देशी शराब के ठेकों से ब्रांडेड देशी शराब के पाउच खरीद कर पिये थे। देशी शराब के इन ठेकों से शराब के सैंपल लेकर ठेके सील किया जा चुका है। आगरा जोन के ADG राजीव कृष्णा ने अलीगढ़ के हॉस्पिटल्स में भर्ती लोगों से उनका हालचाल जाना और डॉक्टरों से उनकी सेहत के बारे में समस्त जानकारी हासिल की। उन्होंने मीडिया को बताया कि फरार अभियुक्तों को हिरासत में लेने के लिए पुलिस की 6 टीमें बना दी गयी हैं, जो निरंतर दबिश दे रही हैं। वे जल्द ही पकड़ लिए जाएंगे।

शराब से हुई मौतों के बाद गवर्नमेंट ने कड़ा कदम उठाते हुए जिला आबकारी अधिकारी सहित 5 लोगों को निलंबितकिया जा चुका है। इस केस में शराब की दुकान के मालिक सहित 4 लोगों को हिरासत में लिया जा चुका है। जिलाधिकारी ने मृतकों के परिजनों को 5 लाख रुपये की अनुग्रह राशि देने का एलान किया जा चुका है। अलीगढ़ के जिलाधिकारी चंद्रभूषण सिंह ने पत्रकारों को कहा कि घटना की समयबद्ध मजिस्ट्रेटी जांच का आदेश दे दिया गया है और यह जांच अपर जिलाधिकारी स्तर के एक अधिकारी द्वारा की जाने वाली है। उन्होंने बोला कि जांच में दोषी पाये जाने वाले लोगों के खिलाफ प्रशासन राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) लगा सकता है।

HDFC पर RBI का बड़ा एक्शन, लगाया 10 करोड़ का भारी जुर्माना

ब्लैक फंगस की याचिकाओं पर सुनवाई के बीच दिल्ली हाई कोर्ट ने जाहिर की लाचारी

आयुष मंत्री श्रीपद नाइक का बड़ा बयान, कहा- "प्रधानमंत्री मोदी द्वारा योग पर जागरूकता से..."

Most Popular

- Sponsored Advert -