लॉकडाउन के चलते खिलाड़ी रहे अपने कमरों में और करें यह काम  

लॉकडाउन के चलते खिलाड़ी रहे अपने कमरों में और करें यह काम  

NIS पटियाला और बंगलूरू में टोक्यो ओलंपिक की तैयारियां कर रहे खिलाड़ियों के लिए बुधवार की सुबह एकदम अलग थी. उन्हें निर्देश दिए गए न ही कोई असेंबली होगी और न ही कोई ट्रेनिंग सत्र होने वाला है. कोई भी कमरों से बाहर नहीं निकलेगा. सिर्फ खाना खाने के लिए मेस में आना है. जंहा इन्हें कमरों में रहकर रस्सी कूदने का वीडियो अपलोड कर खेल मंत्री किरन रिजिजू की ओर से लॉकडाउन के दौरान शुरू की गई फिट इंडिया मुहिम से जुड़ने के लिए कहा गया है.


रिपोर्ट्स के अनुसार इस वक्त ओलंपिक की तैयारियों के लिए हिमा दास, जिंसन जॉनसन, अविनाश साबले, नीरज चोपड़ा, मनप्रीत सिंह, रानी रामपाल और मीराबाई चानू जैसे खिलाड़ी कैंप में शामिल हैं. मैरीकॉम और बजरंग के रस्सी कूदते और एक्सरसाइज करते हुए वीडियो दिए गए हैं. उनसे कहा गया है कि वे अपने कमरों में एक्सरसाइज करते हुए इस तरह के वीडियो बनाएं. इसके लिए खिलाड़ियों को समय सीमा भी दी गई.

जानकारी के लिए हम बता दें कि एथलेटिक्स के हाईपरफॉरमेंस डायरेक्टर हरमन वॉकर और अन्य प्रशिक्षकों ने सेंटर इचार्ज से अपील की कि खिलाड़ियों को कम से कम जिम जाने की इजाजत दी जाए जिससे वे नियमित एक्सरसाइज कर सकें. वेटलिफ्टरों के साथ समस्या यह है कि अगर उन्हें कमरों में 21 दिन के लॉकडाउन में रखा गया और जिम में नियमित एक्सरसाइज नहीं करने दी गई तो उनका वजन बढ़ने से भार वर्ग ही बदल जाएगा.

बैडमिंटन संघ ने किया बड़ा एलान, कहा-  कोरोना के कहते घरों में ही रहें खिलाड़ी 

ओलंपिक रद्द होने के बाद अब  फिना विश्व तैराकी हो सकता है पोस्टपोन