'टीकाकरण तेज करें, समय पर होंगे चुनाव..', निर्वाचन आयोग का चुनावी राज्यों को निर्देश

नई दिल्ली: भारत के निर्वाचन आयोग ने चुनाव वाले पांच राज्यों के मुख्य सचिवों को पत्र लिखते हुए कोरोना वायरस टीकाकरण की रफ़्तार को 'तेज' करने के लिए कहा है।  सूत्रों के अनुसार, चुनाव निकाय ने मणिपुर में पहली खुराक के कम प्रतिशत पर भी चिंता प्रकट की है। भारत चुनाव आयोग ने सोमवार को पांच चुनावी राज्यों के मुख्य सचिवों को इस संबंध में पत्र भी लिखा है। 

बता दें कि चुनाव वाले राज्यों की तैयारियों का जायजा लेने के लिए निर्वाचन आयोग ने हाल ही में पंजाब, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, मणिपुर और गोवा का दौरा भी किया था। रिपोर्ट्स के अनुसार, चुनाव पैनल जनवरी 2022 में उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, मणिपुर, गोवा और पंजाब में चुनावों की तारीखों का ऐलान कर सकता है। उत्तर प्रदेश विधानसभा का कार्यकाल मई 2022 में ख़त्म हो रहा है। जबकि अन्य चार राज्यों की विधानसभाओं की अवधि मार्च 2022 में अलग-अलग तारीखों पर ख़त्म हो रही है।

कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों की वृद्धि के बाद भी, पांच राज्यों के चुनाव तय कार्यक्रम के मुताबिक होने की उम्मीद जताई जा रही है। सियासी दल संबंधित राज्यों में आक्रामक रूप से प्रचार कर रहे हैं। रैलियों और जनसभाओं में कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ने की आशंका को देखते हुए भी भारी भीड़ देखी गई है।

ओमीक्रॉन संस्करण के कारण अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को फिर से शेड्यूल किया गया

नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने राष्ट्रीय वायु खेल नीति का मसौदा जारी किया

महिलाओं के खिलाफ अपराध: 2021 में करीब 31,000 शिकायतें मिलीं

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -