रायपुर: राहुल का बीजेपी पर प्रहार, कहा जितने दुष्कर्म पिछले 4 साल में हुए उतने पिछले 3000 साल में भी नहीं हुए

Aug 10 2018 06:03 PM
रायपुर: राहुल का बीजेपी पर प्रहार, कहा जितने दुष्कर्म पिछले 4 साल में हुए उतने पिछले 3000 साल में भी नहीं हुए

रायपुर: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी आज छत्तीसगढ़ के रायपुर में हैं, आज राहुल गाँधी ने प्रदेश कांग्रेस के नए राजीव भवन का लोकर्पण किया. उसके बाद अपने चिर-परिचित अंदाज़ में उन्होंने पीएम मोदी पर निशाना साधा. राहुल गाँधी ने मुजफ्फरपुर और देवरिया के शेल्टर होम्स में हुए जघन्य अपराध को लेकर पीएम मोदी को घेरते हुए कहा कि पीएम मोदी ने बिहार और उत्तर प्रदेश दुष्कर्म मामलों पर चुप्पी साध रखी है. 

राहुल गांधी आज छत्तीसगढ़ में, कांग्रेस कार्यालय का करेंगे शुभारंभ

उन्होंने मोदी सरकार पर हमला करते हुए कहा है कि "ये सवाल देश की तमाम महिलाओं के मन में उठ रहा है कि आखिर क्यों बीजेपी शासित प्रदेशों में महिलाओं के साथ बलात्कार किया जा रहा है. राहुल गाँधी ने कहा है कि मोदी सरकार द्वारा शासित पिछले 4 सालों में जितने दुष्कर्म हुए हैं, उतने पिछले 3000 साल में भी नहीं हुए हैं ". इसके साथ ही उन्होंने छत्तीसगढ़ के सीएम रमन सिंह पर भी प्रहार किया, उन्होंने कहा कि "जब पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ का नाम पनामा में आया तो उन्हें दोषी पाया गया, रमन सिंह के बेटे का नाम भी पनामा में उजागर हुआ है, लेकिन उन पर कोई कार्यवाही नहीं की गई, ये है बीजेपी की चौकीदारी."  

आखिर क्या है बहुचर्चित और विवादित राफेल सौदा

दुष्कर्म मुद्दों के अलावा राहुल ने यहाँ भी राफेल मुद्दे को हथियार की तरह इस्तेमाल किया, उन्होंने कहा कि "मैंने पार्लियामेंट में रक्षा मंत्री से कहा की अपने हिंदुस्तान को झूठ क्यों बोला? जवाब नहीं मिला.जब मैंने मोदी जी को कहा, वो अपनी आँख मेरी आँख से नहीं मिला पाए. आपने टीवी में देखा वो इधर उधर देख रहे थे, क्यों? क्यूंकि चौकीदार भागीदार बन गया." आपको बता दें कि राफेल विमानों की कीमत सार्वजनिक न करने की संधि पर खुद फ्रांस की ओर से रक्षा मंत्री के बयान का समर्थन करते हुए कहा था कि फ्रांस और भारत के बीच राफेल का मूल्य सार्वजनिक ना करने पर समझौता हुआ है. 

खबरें और भी:-

नैशनल हेराल्ड में राहुल-सोनिया पर संकट गहराया

राफेल मुद्दे को लेकर फिर भिड़ी बीजेपी-कांग्रेस

अरुण शौरी का केंद्र सरकार पर आरोप बोफोर्स से बड़ा है राफेल घोटाला

?