स्पेन: हंसती हुई फोटो की वजह से गैंग रेप ख़ारिज, लोगों में भारी गुस्सा

स्पेन में रेप का एक अजीब केस सामने आया है, जिसमें 2016 में हुए एक फेस्टिवल के दौरान कुछ लड़कों पर एक नाबालिग लड़की का रेप करने का आरोप लगा था जिसके बाद अब जाकर कोर्ट ने उन पांच लड़कों को बलात्कार के आरोप से मुक्त कर यौन उत्पीड़न के केस में सजा सुनाई गई. 

क्या है मामला: 2016 में बुल फेस्टिवल के दौरान हुई इस घटना में पांच लड़कों ने एक नाबालिग लड़की को कार में बैठाकर, एक सार्वजनिक जगह ले जाकर शारीरिक संबंध बनाए, घटना को अंजाम देने के बाद वो सभी लड़के वहां से चले गए थे. लड़की ने बाद में इन लड़कों पर गैंगरेप का आरोप लगाया था लेकिन हाल ही में कोर्ट की सुनवाई में इस बात की पुष्टि नहीं हो पाई और कोर्ट ने उन लड़कों को बलात्कार की जगह यौन उत्पीड़न के केस में 9-9 साल की सजा सुनते हुए लड़की को 8-8 लाख रुपए जुर्माना देने की सजा सुनाई.

स्पेन कोर्ट का बयान: स्पेन कोर्ट के अनुसार लड़की का बलात्कार हुआ नहीं था, लड़कों के वकील की दलील के आधार पर कोर्ट के फैसले में कहा गया है कि लड़की के साथ बलात्कार नहीं हुआ था बल्कि वो खुद अपनी मर्जी से इन लड़कों के साथ ग्रुप में शारीरिक संबंध बना रही थी, हालाँकि इन मामलो में लड़कों ने शोषण करने के दौरान एक वीडियो भी बनाया था जिसको बाद में व्हाट्सएप्प पर वायरल कर दिया गया था. कोर्ट में यह वीडियो अहम सबूत के तौर पर रखा गया था. 

इसके बाद ही स्पेन की कोर्ट के फैसले के खिलाफ वहां के लोगों ने भारी मात्रा में प्रदर्शन किया, लोगों के अनुसार लड़की के साथ के न्याय नहीं हुआ है. लड़की भी कोर्ट के इस फैसले से सहमत नहीं है. लड़की के अनुसार लड़कों ने पहले उसको धक्का देकर जबरदस्ती किया था. 

काबुल : दो आत्मघाती हमलों में कुल 21 मौतें

सीरिया पर पुतिन की परछाई

ऑस्ट्रेलिया में हुई 43 साल की ज्ञात मकड़ी की मौत

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -