पूर्व सेनाध्यक्ष के भाई ने कबूली अगस्ता घोटाले में लेनदेन की बात

नई दिल्ली : एक ओर वायुसेना के पूर्व अध्यक्ष एस पी त्यागी अगस्ता वेस्टलैंड घोटाले में लेन-देन की बात से इंकार कर रहे है, दूसरी ओर उनके चचेरे भाई संजीव त्यागी ने इस बात को स्वीकारा है कि बिचौलिए से उनका वितीय लेनदेन हुआ था। इस बात की जानकारी सीबीआई ने दी है।

त्यागी के भाई ने कहा है कि हेलीकॉप्टर डील में बितौलिया कालरे गेरोसा और ग्विको हैश्के से उनका वितीय लेनदेन हुआ था। इस खुलासे के बाद सीबीआई की ओर से पहली गिरप्तारी की संभावना बढ़ गई है। एजेंसी के सूत्रों ने दावा किया है कि संजीव और एक अन्य आरोपी गौतम खेतान, जिनसे आज पूछताछ हुई, सवालों के जवाब नहीं दे रहे और सूचनाएं छुपा रहे हैं।

सूत्रों ने दावा किया कि संजीव ने पूर्व वायुसेना अध्यक्ष के साथ संपत्ति के सौदों की भी बात मानी है। एक अधिकारी के अनुसार, जब उनसे ब्योरे के बारे में पूछा गया तो उन्होने उचित जानकारी नही दी। पूछताछ के दौरान कई अहम सवालों के जवाब देने से भी वो बचते रहे।

संजीव और खेतना के अलावा सीबीआई की लिस्ट में दो अनय नाम संदीप त्यागी औऱ राजीव त्यागी का है। जिससे सीबीआई ने अपने मुख्यालय के दो अलग-अलग कमरों में बिठाकर 8 घंटे तक पूछताछ की। करार में कथित रिश्वत प्राप्त करने की आरोपी कंपनियों में से एक एयरोमैट्रिक्स के पूर्व बोर्ड सदस्य खेतान ने कंपनियों और अगस्तावेस्टलैंड के बाबत सूचनाएं छुपाईं। पूछताछ के बीच में खेतान को कुछ देर के लिए कुछ जरुरी दस्तावेजों को लाने के लिए जाने दिया गया था।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -