सदन में बोले आज़म खान, कहा- पूरा विपक्ष एक साथ इस्तीफा दे और फिर वापस...

सदन में बोले आज़म खान, कहा- पूरा विपक्ष एक साथ इस्तीफा दे और फिर वापस...

लखनऊ: नरेंद्र मोदी सरकार के विरुद्ध गुरुवार को विपक्षी दलों ने संसद परिसर में विरोध प्रदर्शन किया. इस दौरान समाजवादी पार्टी (सपा) के सांसद आजम खां ने कहा कि 'पूरा विपक्ष इस्तीफा दे और फिर से बैलेट पेपर द्वारा चुनाव कराए जाएं. मैंने राहुल गांधी से कहा कि मैं इस्तीफा देने वाला पहला शख्स रहूंगा. आज की स्थिति अंग्रेजों से भी अधिक खराब हो गई है.' संसद परिसर में गुरुवार को हुए विरोध प्रदर्शन में तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी), समाजवादी पार्टी (सपा), राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (रांकपा), राष्ट्रीय जनता दल (राजद) और मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) के सांसदों ने हिस्सा लिया.

उधर कर्नाटक में सियासी घमासान को लेकर कांग्रेस और द्रमुक समेत प्रमुख विपक्षी दलों ने मंगलवार को लोकसभा में हंगामा किया और सदन से बहिर्गमन किया. कर्नाटक में कांग्रेस और जेडीएस के कई विधायकों ने इस्तीफा देकर कर्नाटक की गठबंधन सरकार को संकट में डाल दिया है. सदन में उस समय हंगामा आरंभ हो गया, जब कांग्रेस ने शून्यकाल के दौरान इस मुद्दे को उठाने का आग्रह किया मगर स्पीकर ओम बिड़ला ने इसकी इजाजत नहीं दी.

कांग्रेस और द्रमुक सांसद स्पीकर के आसन तक जा पहुंचे और 'हम न्याय चाहते हैं' जैसे नारे लगाने लगे. ओम बिरला ने कहा कि उन्होंने सोमवार को कांग्रेस को इस मुद्दे पर बोलने की इजाजत दी थी. उन्होंने कहा, "संसद के बाहर यह धारणा न दें कि यह नारेबाजी और तख्तियां दर्शाने का स्थान है." बिड़ला ने कहा, "सदन को नगर निगम हॉल की तरह ना बनाएं."

कर्नाटक में सियासी संकट को लेकर धरने पर कांग्रेस, संसद परिसर में डटे सोनिया-राहुल

कर्नाटक में सियासी पारा चरम पर, आज इस्तीफा दे सकते हैं कुमारस्वामी

भाजपा के चैंपियन MLA को पार्टी का नोटिस, पुछा - क्यों ना किया जाए निलंबित ?