सिर्फ ये तीन काम करके 'कोरोना' से जीता दक्षिण कोरिया, अब अमेरिका भी मांग रहा मदद

सिर्फ ये तीन काम करके 'कोरोना' से जीता दक्षिण कोरिया, अब अमेरिका भी मांग रहा मदद

सियोल: कोरोना वायरस के संक्रमण से किसी देश की जीत इस समय काफी मायने रखता है. दक्षिण कोरिया ने महज  3 काम करके कोरोना वायरस को दो महीनों के भीतर ऐसी मात दी है कि अब ये पूरी दुनिया के लिए उदहारण बन रहा है. अगले दो सप्ताह मे कोरियन सरकार अपने स्कूल भी खोलने जा रही है. दुनिया के सबसे शक्तिशाली देश अमेरिका तक ने खुद दक्षिण कोरिया से मदद मांगी है.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, दक्षिण कोरिया ने बढ़ते कोरोना वायरस से बचने के लिए केवल तीन चीजों पर काम किया. पहला, देश के सभी सरकारी और प्राइवेट लैब में कोरोना वायरस का टेस्ट शुरू किया. रोजाना तक़रीबन 20 हजार लोगों की कोरोना वायरस जांच की गई. दूसरा, देश के प्रत्येक नागरिक को फोन में संपर्क किया और आसपास पाए जाने वाले कोरोना वायरस मामले के बारे में बताया गया, ताकि लोग खुद ही घर से बाहर न निकलें. चर्च और अन्य धार्मिक स्थलों में पादरियों को निर्देश दिए गए कि लोगों को वहां आने से रोके. जानकारों का कहना है कि ये तीन फॉर्मूले इतने असरदार साबित हुए कि मात्र दो महीने के भीतर कोरोना वायरस पर दक्षिण  कोरिया ने नियंत्रण पा लिया.

स्थानीय मीडिया के अनुसार अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जेइन को फोन करके सहायता मांगी है. ट्रंप ने दक्षिण कोरिया को जल्द से जल्द टेस्ट किट उपलब्ध कराने की गुजारिश की है ताकि अमेरिका में बढ़ रहे कोरोना वायरस को रोका जा सके.

दुनियाभर में फैला कोरोना का खौफ, घरों में कैद हुई 20 फीसदी आबादी

कोरोना : इटली में मौत का तांडव जारी, दुनियाभर में 21 हज़ार लोगों की मौत

VIDEO: पाक में बढ़ा कोरोना का कोहराम और पीएम कह रहे अभी अल्लाह का शुक्र है