स्वास्थ्यकर्मी की मदद के लिए दक्षिण मध्य रेलवे ने बनाया यह डिवाइस

लॉकडाउन और कोरोना संक्रमण के बीच दक्षिण मध्य रेलवे जोन ने कोरोना वायरस प्रकोप के मद्देनजर मरीज की देखभाल के लिए अस्पताल प्रबंधन कार्यों में सहायता के लिए एक रोबोट डिवाइस, विकसित किया है. हैदराबाद डिवीजन के अतिरिक्त मंडल प्रबंधक हेम सिंह बनोठ ने कहा कि एससीआर और उनकी टीम द्वारा विकसित इनोवेशन को लेकर जोन के प्रमुख, गजानन माल्या एससीआर के महाप्रबंधक ने उनकी प्रशंसा की है.

लॉकडाउन के चौ​थे चरण में इन जोन में मिल सकती है छूट

इस मामले को लेकर दक्षिण मध्य रेलवे की एक प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार, माल्या ने चिकित्सा देखभाल प्रबंधन को मजबूत बनाने के लिए इसे विशेष रूप से कोरोना वायरस (COVID-19) महामारी की स्थिति के लिए अच्छी उपलब्धि करार दिया. सेंट्रल रेलवे अस्पताल, लालगुडा, सिकंदराबाद में इसके  उपयोग के लिए आर-बीओटी का व्यापक परीक्षण और प्रदर्शन हुआ

योगी के मंत्री के बिगड़े बोल- घर जा रहे मजदूरों को बताया चोर-डकैत !

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि आर-बीओटी का इस्तेमाल बिना किसी शारीरिक संपर्क के दवाई, सहायक उपकरण प्रदान करने और मरीजों को भोजन परोसने के लिए किया जाएगा. यह डॉक्टरों, नर्सों और अन्य सहायक चिकित्सा कर्मचारियों को संक्रमण के जोखिम से दूर रहने में सक्षम करेगा.

दिल्ली-ग़ाज़ीपुर बॉर्डर पर मजदूरों ने किया हंगामा, सीएम योगी के आदेश पर यूपी में नहीं मिली एंट्री

क्या चालू किए जा सकते है उद्योग-धंधे ?

गुजरात में अब तक का सबसे बड़ा ​कोरोना संक्रमण का आंकड़ा आया सामने

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -