Ind Vs SA: क्या संजू की एक 'गलती' के कारण जीतते-जीतते हार गई टीम इंडिया ?

नई दिल्ली: टीम इंडिया को गुरुवार को लखनऊ में खेले गए तीन मैचों की ODI सीरीज के पहले मैच में शिकस्त का सामना करना पड़ा है। साउथ अफ्रीका ने भारत को नौ रनों से मात दी है। भारत के लिए संजू सैमसन ने नाबाद 86 रनों की पारी खेल टीम को जीत दिलाने का प्रयास किया, मगर वह कामयाब नहीं हो सके। संजू कोशिश तो पूरी कर रहे थे, किन्तु इसी बीच वह एक गलती भी कर बैठे, जो संभवतः भारत की पराजय के कारणों में से एक रही।

इस मुकाबले में साउथ अफ्रीका ने पहले बैटिंग करते हुए 4 विकेट खोकर 249 रन बनाए। जवाब में टीम इंडिया पूरे 40 ओवर खेलने के बाद आठ विकेट खोकर 240 रन ही बना सकी। बता दें कि ये मैच बारिश की वजह से 40-40 ओवर का कर दिया गया था। टीम इंडिया लक्ष्य का पीछा कर रही थी। उसे अंतिम 12 गेंदों पर 38 रन चाहिए थे। संजू क्रीज़ पर पैर जमा चुके थे और उनके रहते लग रहा था कि टीम इंडिया ये लक्ष्य हासिल कर लेगी। किन्तु, परेशानी ये थी कि 39वें ओवर में स्ट्राइक पर आवेश खान थे और गेंद थी कगिसो रबाडा के हाथ में। पहली गेंद पर कोई रन नहीं आया। दूसरी गेंद पर भी आवेश रन नहीं ले सके। तीसरी गेंद पर आवेश ने हवा में शॉट खेला और लुंगी एंगिडी से ये कैच छूट गया। इस शॉट पर आवेश और संजू ने दो रन ले लिए, जिससे स्ट्राइक आवेश के पास ही रही। यहां संजू सिंगल लेकर, स्ट्राइक अपने पास रख सकते थे। इससे साउथ अफ्रीका पर दबाव भी बनता और संजू को अधिक गेंदें खेलने का मौका मिलता, मगर ऐसा हुई नहीं।

चौथी गेंद पर भी आवेश कोई रन नहीं बना सके। पाचवीं गेंद पर वह आउट हो गए। वहीं, अंतिम गेंद पर रवि बिश्नोई ने चौका जड़ दिया। रवि ने ये चौका फ्री हिट पर मारा क्योंकि अंतिम गेंद नो बॉल हो गई थी। यानी सिंगल न लेकर संजू ने चार गेंदें खेलने का मौका गंवा दिया। ऐसे में अंतिम ओवर में टीम इंडिया को 31 रन चाहिए थे। संजू यदि पिछले ओवर की चार गेंद खेल लेते, तो शायद इस ओवर में कम रनों की दरकार होती, साथ ही संजू इस ओवर में भी अपने पास स्ट्राइक रख सकते थे। अंतिम ओवर की पहली गेंद पर संजू ने छक्का, फिर अगली दो गेंदों पर चौके जड़े। पांचवीं गेंद पर उन्होंने एक और चौका मारा। किन्तु वह टीम को जीत नहीं दिला पाए। संजू के अलावा टीम इंडिया के लिए श्रेयस अय्यर ने 50 रन बनाए। भारत का कोई और बल्लेबाज अधिक रन नहीं कर सका। वहीं, साउथ अफ्रीका के लिए हेनरिक क्लासेन ने नाबाद 74 और डेविड मिलर ने नाबाद 75 रनों की पारी खेली।

नाबालिग का बलात्कार करने के मामले में इंटरनेशनल क्रिकेटर गिरफ्तार, रह चुका है कप्तान

Pro Kabaddi League में खिताब के लिए भिड़ेंगी ये 12 टीमें, किसके सिर सजेगा जीत का ताज

ग्राहम रीड, जेनेक शोपमैन ने अपने नाम किया ये शानदार खिताब

 

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -