भारत की कोरोना वैक्सीन पर दक्षिण अफ्रीका को है पूरा विश्वास, सीरम इंस्टीट्यूट के Covishield को दी मंजूरी

By Nikki Chouhan
Jan 24 2021 10:37 AM
भारत की कोरोना वैक्सीन पर दक्षिण अफ्रीका को है पूरा विश्वास, सीरम इंस्टीट्यूट के Covishield को दी मंजूरी

नई दिल्ली: दक्षिण अफ्रीका ने भारत की कोरोना वायरस वैक्सीन ‘कोविशील्ड’ को अनुमति दे दी है। इसके तहत दक्षिण अफ्रीका सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया द्वारा निर्मित 'कोविशिल्ड' का आयात भारतदेश से करेगा। इस निर्णय का ऐलान शनिवार को दक्षिण अफ्रीका के हेल्थ मिनिस्टर ज्वेलि मखाइज ने किया। इससे एक दिन पूर्व ही भारत ने अपने दक्षिण एशियाई पड़ोसियों को कोरोना वायरस वैक्सीन भेजने के पश्चात् अफ्रीका में वैक्सीन भेजी थी। 

वही शुक्रवार की शाम को रॉयल एयर मैरोक प्लेन भारत से मोरक्को की राजधानी रबात के लिए लौट गया। प्राप्त हुई जानकारी के अनुसार, दक्षिण अफ्रीका को जनवरी के आखिर तक भारत द्वारा कोविशिल्ड की दस लाख खुराक तथा फरवरी में 5 लाख खुराक आयात करने की आशा है। वर्तमान में दक्षिण अफ्रीका कोरोना की दूसरी लहर से ग्रसित है, साथ-साथ कोरोना के नए स्ट्रेन ने भी वहां खतरा बढ़ा दिया है। जिसके कारण दक्षिण अफ्रीका ने प्रथम चरण में स्वास्थ्यकर्मियों का टीकाकरण करने का फैसला लिया है।

अफ्रीकी देश मोरक्को को वैक्सीन भेजने के पश्चात् रबात में भारतीय दूतावास ने ट्वीट किया, "भारत एवं मोरक्को के मध्य उत्कृष्ट रिश्तों की अभिव्यक्ति में, विश्व का सबसे बड़ा वैक्सीन उत्पादक सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया तथा एस्ट्राजेनेका एवं ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय द्वारा विकसित कोरोना वैक्सीन की पहली खेप आज भारत से मोरक्को के लिए भेजी गई है।" दूतावास ने बाद में अपने खुद के ट्वीट का उत्तर देते हुए कहा कि यह वैक्सीन सभी के लिए वहन करने अफोर्डेबल है।

शिवसागर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाषण का हुआ विरोध, संगठनों ने की आलोचना

इंग्लैंड के विरुद्ध टीम में वापसी कर सकते है कुलदीप यादव

भारत सरकार का बड़ा एलान, टिकटॉक समेत अन्य चायनीज ऐप पर अब भी जारी रहेगा प्रतिबंध