6 साल से भारत का अधूरा सपना पूरा करने से एक कदम दूर सोनिया

नई दिल्ली : भारत की सोनिया लाठेर (57 किलो) कजाखस्तान की ऐजान खोजाबेकोवा को हराकर एआईबीए वर्ल्ड बॉक्सिंग चैम्पियनशिप के फाइनल में कब्ज़ा जमाया है. अब सोनिया स्वर्ण पदक जीतकर भारत का 6 साल का इंतजार खत्म करने से सिर्फ एक कदम की दूरी पर है.

एशियाई चैम्पियनशिप 2012 की रजत पदक विजेता सोनिया ने 3-0 से मुकाबला अपने नाम किया. अब फाइनल में वह इटली की एलेसिया मेसियानो से भिड़ेगी जिसने बुल्गारिया की डेनित्सा एलिसीवा को इसी अंतर से हराया. टूर्नामेंट में एकमात्र भारतीय बची सोनिया ने अपनी विरोधी की गलतियों का पूरा फायदा उठाया. ऐजान का डिफेंस भी बहुत खराब था लिहाजा निर्णायकों को फैसला लेने में कोई परेशानी नहीं हुई.

बता दे की सोनिया को छोड़कर बाकि भारतीयों का प्रदर्शन इस टूर्नामेंट में निराशाजनक रहा और तीन ओलंपिक भारवर्गों 51 किलो, 60 किलो, 75 किलो में कोई रियो ओलंपिक के लिए क्वालीफाई नहीं कर सका. भारत ने 2010 के बाद से वर्ल्ड चैम्पियनशिप में स्वर्ण पदक नहीं जीता है जब एम सी मेरीकाम ने 48 किलो वर्ग में अपना पांचवां विश्व खिताब जीता था.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -