नाव पलटने से 17 महिलाए नदी में डूबी

डेहरी: सोन नदी में एक नाव के पलट जाने से उसमे सवार 17 महिलाएं डूब गयीं। इनमें से 5 महिलाओं के लाशो को तलाश कर लिया गया है। अन्य 6 महिलाओं की खोज में NDRF के गोताखोर लगे हुए हैं। डूब रहीं 6 महिलाओं को बचाकर इलाज के लिए सरकारी व निजी अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। यह घटना एनीकट में बीसवें फाटक के पास गुरुवार को हुई है।

इस घटना के बाद लोगों ने प्रशासनिक उपेक्षा के विरोध में निरंजन बिगहा के पास सड़क पर आगजनी करके डेहरी-तिलौथू मार्ग पर चक्काजाम कर दिया। घटनास्थल पर पहुंचे डीएम संदीप कुमार पुडकलकप्ती ने सरकार की ओर से आश्रितों को 4-4 लाख रुपये की आर्थिक सहायता के रूप में मुआवजा देने व सरकारी खर्च पर उपचार कराने की घोषणा की। वही वार्ड पार्षद मोहन सिंह ने शवों के अंतिम संस्कार के लिए कबीर अंत्येष्टि योजना से डेढ़-डेढ़ हजार रुपए दिये।

शिवगंज व निरंजन बिगहा की 17 महिलाएं नाव पर सवार होकर दूसरे किनारे सोन टीले पर जा रही थीं। जैसे ही नाव बीसवें फाटक के पास पहुंची तभी अनियंत्रित होकर पलट गयी। नाव में सवार सभी महिलाएं सोन नद में डूबने लगीं। नाविक नंदू कुमार ने तीन महिलाओं को पानी से ज़िंदा निकल लिया। इस दौरान नाविक की आवाज सुनकर आसपास के लोग घटनास्थल पर पहुंचे।

घटना के बाद दोपहर तक कुल 5 महिलाओं के लाश सोन नदी से नकली जा चुकी थी। हादसे के बाद सभी आला अधिकारी घटनास्थल पर पहुंच चुके है और गोताखोरों की टीम को बाकि की महिलाओ को ढूंढने में लगा दिया है। घटना के संबंध में मामले की जाँच की जा रहा ही। वही सरकार के द्वारा मृतक के परिवार को आर्थिक मुआवजा भी दिया जाएगा।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -