ग्लूकोमा के रोगियों के लिए हानिकारक हो सकता है यह आसन

ग्लूकोमा के रोगियों के लिए हानिकारक हो सकता है यह आसन

रोजाना योग करना बहुत लाभकारी होता है हमारे शरीर के लिए. आसन करने से शरीर स्वस्थ रहता है. फिटनेस के लिए पुश-अप एक अच्छा ऑप्शन है लेकिन क्या आप जानते है ग्लूकोमा के रोगियों के लिए योग, आसन और पुश-अप जैसे अन्य व्यायाम हानिकारक होते है इससे उनके आंखों पर दबाव बढ़ सकता है. जब भी कोई व्यायाम करे एक बार डॉक्टर की सलाह जरूर लें.  

एक अध्ययन से यह पता चला है कि ग्लूकोमा रोगियों के लिए व्यायाम खतरनाक हो सकता है इससे उनकी आंखों की रोशनी प्रभावित हो सकती है या आंखों की रोशनी हमेशा के लिए जा भी सकती है.

व्यायाम करते वक्त ग्लूकोमा के रोगियों के ऑप्टिक नर्व पर नुकसान पहुंच सकता है. इससे आंख के अंदर तरल पदार्थ का दबाव बढ़ जाता है. आंखों में तरल पदार्थ का दबाव बढ़ने का सबसे सामान्य कारण है एलिवेटेड इंट्राऑक्यूलर प्रेशर (आईआेपी) है. 

अगर आप किसी भी बीमारी से पीड़ित है तो व्यायाम करने से पहले एक बार हेल्थ एक्सपर्ट की सलाह जरूर लें. फिर ही कोई व्यायाम शुरू करे.