झमाझम बारिश में बीमारियों से बचने के उपाय

झमाझम बारिश में बीमारियों से बचने के उपाय
Share:

इन दिनों हर कहीं जोरदार बारिश हो रही है। झमाझम झड़ी से लोग भीगने का आनंद ले रहे हैं तो दूसरी ओर बारिश से हर ओर छाई हरियाली लोगों के मन को सुकून दे रही है. मगर काॅलोनियों और मोहल्लों में यहां वहां जमा पानी लोगों की परेशानी बढ़ा रहा है। बारिश का यह मौसम आपको सुकून पहुंचाता है तो दूसरी ओर लोगों की परेशानियां भी बढ़ा देता है। बारिश के इस मौसम में आपकी मुश्किलें भी बढ़ ही गई होंगी। इस दौरान कई लोगों को सर्दी जुकाम और अन्य बीमारियों का सामना भी करना पड़ता है लेकिन ऐसे कई तरीके हैं जिनसे आप बारिश से बढ़ने वाली मुश्किलों से बच सकते हैं। जी हां ऐसे कुछ तरीके हैं जिनसे आप अपने साथ साथ अपने आसपास वालों का भी ध्यान रख सकते हैं। 

हाथ पैर रखें साफ 

जब कभी भी आप बाहर से घूमकर या अपने काम से लौटकर आऐं तो हाथ पैर अच्छे से जरूर धो लें। बारिश के दिनों में अपने हाथ पैर को साफ रखे जाने पर अधिक ध्यान दें। घर में प्रवेश करने से पहले भी अपने हाथ पैरों पर साफ पानी डालें। इसके साथ ही अपने हाथ पैर साबुन से धो सकें तो और भी बेहतर है। दरअसल बारिश के दिनों में सड़क पर जमा पानी का संपर्क नालियों में बहने वाले पानी से भी हो जाता है और इस पानी में कई तरह के रोगाणु भी पनप सकते हैं ऐसे में हाथ पैर साफ धोना बीमारियों से बचने का एक विकल्प है। 

सेनिटाईज़र का उपयोग

बारिश के दिनों में सर्दी जुकाम की परेशानी भी अक्सर लोगों को होने लगती है। ऐसे में उनकी नाक से हाथ संपर्क में आ जाता है और यहां वहां हाथ लगने से या हाथ मिलाने के दौरान वायरल इंफेक्शन होने का खतरा बना रहता है ऐसे में सेनिटाईज़र बेहतर विकल्प होता है। 

पीने के लिए शुद्ध जल का उपयोग 

बारिश के दिनों में नलों से सप्लाय होने वाले पेय जल और अन्य स्त्रोंतों से मिलने वाले पेय जल में कई तरह की कमियां हो सकती हैं। ऐसा जल मटमैला भी हो सकता है और अपेक्षाकृत अधिक दूषित भी हो सकता है. ऐसे में इस जल को सीधे प्रयोग में लाने के स्थान पर या तो उबालने के बाद छानकर इसका शोधन कर लें और फिर ठंडा होने पर इसका पान करें। आर ओ प्यूरिफायर का भी उपयोग आपके द्वारा किया जा सकता है। 

गीले बदन को अच्छे से पोंछ लें 

बारिश के दौरान भीगने पर आप अपने बदन को अच्छी तरह से एक साफ और सूखे तौलिए से पोंछ लें। इस दौरान ध्यान रखें की सिर को अच्छी तरह से पोंछ लें और बालों को गीला न छोड़ें। यही नहीं अपने भीगे कपड़ें बदल लें यदि हो सके तो साफ पानी से स्नान भी कर लें। 

भीगने पर सिर का रखें ध्यान 

बारिश के दौरान भीगना अधिकांशतः युवाओं को बहुत अच्छा लगता है और इस दौरान आखिर मन मचल ही जाता है। बारिश की खुमारी में यदि मन भीगने को तैयार हो तो भी अपने सिर का विशेष ध्यान रखें और सिर को भीगने से बचाऐं। ध्यान रखें कि कान में भी पानी न जाए।

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -