सोशल नेटवर्किंग पर हो रही आपकी जासूसी!

नईदिल्ली : साइबर सुरक्षा पर ध्यान रखने वाली फर्म अवास्ट द्वारा हाल ही में यह बात सामने लाई गई है कि जासूसी के मामले में केवल चीन ही आगे नहीं है बल्कि गूगल, व्हाट्सएप और फेसबुक द्वारा यूज़र्स की पसंद और नापसंद की जासूसी करता है। जिसमें यह कहा गया है कि अवास्ट कंपनी का दावा यह दर्शा रहा है कि गूगल और फेसबुक बिजनेस माॅडल इस तरह की जासूसी पर कार्य कर रहा है। हालांकि यह किसी तरह की हेरफेर के लिए नहीं है बल्कि यह तो कंपनियों द्वारा अपने ग्राहकों के बढ़ने, घटने और अन्य बातों को देखने के लिए किया जा रहा है। इससे यूज़र्स की सिक्योरिटी पर कोई असर नहीं होगा। 

दरअसल सोशल नेटवर्किंग सेवा प्रदान करने वाली ये कंपनियां अपने ही यूज़र्स की जासूसी करने में लगी हैं। इन कंपनियों द्वारा उपभोक्ताओं की जासूसी करते हुए अपनी सेवाओं में अपग्रेडेशन किया जाता है। जिससे ये आपसी प्रतिस्पर्धा में बेहतर बनी रहे। इसे कंपनियों की बिज़नेस एक्टीविटी भी कहा जा सकता है। उल्लेखनीय है कि चीन द्वारा जासूसी करने के मामले में अमेरिका ने कड़ी आपत्ती ली। जिसमें उसने कहा कि चीन द्वारा अमेरिका के आवश्यक तथ्यों की जासूसी की जा रही है। मगर अब जासूसी का नया तरीका सामने आया है। जिसमें कंपनियां अपने उपभोक्ताओं की पसंद की जासूसी करने में लगी हैं। 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -