इस राज्य में आफत बनकर आई बर्फबारी, कई मार्ग हुए बंद

देहरादून : प्रदेश में आज भी बदरीनाथ धाम, हेमकुंड साहिब, रुद्रनाथ, फूलों की घाटी के साथ ही ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बर्फबारी हुई। बदरीनाथ धाम में करीब आठ फीट तक बर्फ जम गई है। धाम में आस्था पथ भी पूरी तरह से बर्फ से ढका हुआ है। हेमकुंड साहिब में भी करीब साढ़े दस फीट तक बर्फ जम गई है। रविवार को दोपहर बाद मौसम ने करवट बदली। 

पुलवामा के बदले में जुटी भारतीय सेना, मास्टरमाइंड गाजी समेत जैश के दो आतंकी ढेर

बर्फ़बारी से ढ़का रास्ता 

सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार आज सुबह से ही ऊंचाई और निचले क्षेत्रों में चटख धूप खिली, लेकिन दोपहर दो बजे बाद से ऊंचाई वाले क्षेत्रों से आसमान में घने बादल छा गए। शाम चार बजे से ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बर्फबारी शुरू हो गई, जो रात तक भी जारी रही। बर्फबारी से बदरीनाथ हाईवे हनुमान चट्टी से आगे पूरी तरह से बर्फ से ढक गया है, जिससे चीन सीमा क्षेत्र में आईटीबीपी और सेना के जवानों की आवाजाही भी ठप पड़ गई है। देश के अंतिम गांव माणा में भी करीब आठ फीट बर्फ जम गई है। 

आज पेश होगा उत्तराखंड सरकार का आम बजट हो सकती है कई घोषणाएं

मार्गों पर जा गिरा मलबा 

जानकारी के लिए बता दें बदरीनाथ हाईवे पर कंचनगंगा, रड़ांगबैंड और दूध गंगा में बड़े-बड़े हिमखंड पसरे हुए हैं। ऋषिकेश-बद्रीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग पर सकनीधार के समीप बोल्डर और मलबा आने से करीब नौ घंटे यातायात ठप रहा। बोल्डर तोड़ने के लिए लोनिवि एनएच खंड को मशीन लगानी पड़ी। काफी मशक्कत के बाद सुबह करीब दस बजे मार्ग को यातायात के लिए खोला गया। वही इससे पहले शनिवार रात तोताघाटी और सकनीधार के मध्य भारीभरकम चट्टान टूटकर सड़क पर आ गिरी। 

सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ में 4 जवान शहीद

पुलवामा में भारतीय सेना ने जैश के आतंकियों को घेरा, मुठभेड़ जारी

अंतरराष्ट्रीय अदालत में आज से फिर शुरू होगी कुलभूषण जाधव मामले पर सुनवाई

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -