हिमाचल में भारी बर्फ़बारी के बीच हिमपात में फंसे कई पर्यटक

शिमला : प्रदेश में भारी बर्फबारी और हिमखंड गिरने से जनजातीय जिले किन्नौर में ग्रामीणों की परेशानियां बढ़ गई है। जानकारी के अनुसार एनएच-5 बंद होने से किब्बर और काजा के बीच जगह-जगह करीब 50 पर्यटक फंस गए हैं। इनमें तीन विदेशी पर्यटक भी बताए जा रहे हैं। हालांकि सभी पर्यटक होटलों में सुरक्षित है। 

यूपी के एक घर में घुसा ट्रक हादसे में मां-बेटी की दर्दनाक मौत

अब भी बंद हुई कई रास्ते 

सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार एसडीएम ने इसकी पुष्टि की है। उन्होंने कहा कि सड़क मार्ग बहाल होते ही सभी को सुरक्षित निकाल लिया जाएगा। वहीं काजा वैली के हजारों ग्रामीण बिजली, पानी और सड़क सुविधा से वंचित हैं। हिमखंड गिरने और भारी बर्फबारी से एनएच-5 और संपर्क मार्ग ठप पड़े हैं। क्षेत्र की खुरीक, किब्बर, लांगचा, काजा, डेमूल, डंगखर, ताबो, ग्यू, गुंगरी, सगनम और लालूंग पंचायतों के करीब 12 हजार ग्रामीण परेशानियां झेलने के लिए मजबूर हैं। सीमा सड़क संगठन और लोनिवि बाधित मार्गों को बहाल करने में जुटे हुए हैं।

अपने रेडियों कार्यक्रम में बोले पीएम मोदी, सालों तक आपसे करूंगा 'मन की बात'

आगे ऐसा रहेगा मौसम 

जानकारी के लिए बता दें हिमाचल प्रदेश के अधिकांश क्षेत्रों में रविवार को मौसम साफ रहने की उम्मीद है लेकिन सोमवार से प्रदेश में दोबारा मौसम बिगड़ेगा। शनिवार को राजधानी शिमला सहित अधिकांश क्षेत्रों में मौसम साफ रहा। धूप खिलने से अधिकतम तापमान में दो से तीन डिग्री की बढ़ोतरी दर्ज हुई है। उधर, मनाली-नग्गर मार्ग पर चट्टानें गिरने से यातायात करीब 12 घंटे बाधित रहा। शनिवार दोपहर बारह बजे के बाद मार्ग बहाल हुआ। कुल्लू के थरमाण में भारी बारिश के चलते सड़क बह गई।

आज लखनऊ में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, कई कार्यक्रमों में लेंगे हिस्सा

अब से कुछ देर बाद अमृतसर पहुंचेंगे अमित शाह, कार्यकर्ता को करेंगे संबोधित

नक्सलवाद के खिलाफ दिखा सेना का दम, तीन नक्सलियों को किया ख़त्म

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -